इंस्पायर अवार्ड पंजीयन में प्रदेश तीसरे स्थान पर, 44 हजार 338 विद्यार्थियों ने करया रजिस्ट्रेशन

चयनित प्रतिभागियों को मॉडल बनाने मिलेंगे 10 हजार

रायपुर। विज्ञान के प्रति विद्यार्थियों की रूचि बढ़ाने, उनमे वैज्ञानिक दृष्टिकोण और तर्क क्षमता का विकास करने, नन्हें बाल वैज्ञानिकों को अवसर प्रदान करने के लिए इंस्पायर अवार्ड योजना (INSPIRE AWARD YOJNA) का संचालन केंद्र सरकार द्वारा किया जाता है।

इंस्पायर अवार्ड योजना (INSPIRE AWARD YOJNA) में प्रदेश के 14 हजार 520 विद्यालयों के 4 हजार 338 का पंजीयन कराया है। पंजीयन कराने के मामलें में प्रदेश, देश में तीसरे नंबर पर है। प्रदेश में सबसे ज्यादा रजिस्ट्रेशन राजनांदगांव, दुर्ग, बिलासपुर, धमतरी, कोरबा, जांजगीर-चांपा, कबीरधाम और सूरजपुर जिले में हुआ है।

15 वर्ष की आयु तक के बच्चे ले सकते है भाग

शिक्षा सत्र 2020-21 से राज्य के सभी सीबीएसई स्कूल, सीआईएससीई संबद्ध स्कूल और केन्द्रीय विद्यालय संगठन के कक्षा कक्षा 6वीं से 10वीं तक के 15 वर्ष तक आयु के सभी विद्यार्थी भी इंस्पायर अवार्ड मानक के राज्य के स्कूलों के लिए आयोजित जिला स्तरीय और राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भाग ले सकेंगे। प्रत्येक विद्यालय से अधिकतम 5 विद्यार्थियों के बेस्ट आइडिया, मॉडल का चयन कर उनका ऑनलाइन पंजीयन कराया जा सकता है।

सहायता राशि मिलेगी 10 हजार

देश भर से एक लाख बच्चों को चयन कर उन्हें जिला स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए 10 हजार रूपए की पुरस्कार राशि प्रदान की जाती है। यह राशि विद्यार्थियों के बैंक खाते में सीधे जमा की जाती है।

जिला स्तरीय प्रदर्शनी में चयनित छात्र को राज्य स्तरीय प्रदर्शनी में भाग लेना होता है। राज्य स्तर पर चयनित प्रतिभागी विद्यार्थियों को राष्ट्रीय नवप्रवर्तन संस्थान द्वारा देशभर के विभिन्न तकनीकी संस्थान के सहयोग से मेंटरिंग सहयोग प्रदान किया जाता है। यहां विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण प्रतिकृति (प्रोटोटाईप) बनाने के बारे में जानकारी दी जाती है। जिससे राष्ट्रीय स्तर की प्रदर्शनी में बेहतर प्रतिकृति प्रदर्शित (INSPIRE AWARD YOJNA) की जा सके।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

523 Origin Unreachable

523 Origin Unreachable


cloudflare-nginx