ईडी ने हवाला ऑपरेटर नरेश जैन को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बुधवार को कहा कि उसने हवाला ऑपरेटर नरेश जैन (Hawala Dealer Naresh Jain) को गिरफ्तार किया है। जैन पर संदेह है कि उसने भारत में 600 से अधिक खातों का प्रयोग कर 95,000 करोड़ रुपये से अधिक के अवैध लेन-देन की सुविधा प्रदान की। एक वरिष्ठ ईडी अधिकारी ने कहा कि एजेंसी ने धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए), 2002 की धाराओं के तहत जैन को गिरफ्तार किया। अधिकारी ने कहा कि जैन ने अपने साथियों के साथ मिलकर कथित रूप से 600 से ज्यादा बैंक खातों का प्रयोग कर के 95,000 करोड़ रुपये से अधिक के अवैध लेन-देने की सुविधा प्रदान की।

अधिकारी ने कहा कि जैन ने विभिन्न बहानों से विदेश में 11,500 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए। जैन को दिल्ली की एक अदालत के समक्ष बुधवार को पेश किया गया। दिल्ली का यह व्यापारी जांच एजेंसियों की रडार में 2016 से था। अधिकारी ने कहा कि जैन ने प्रतिबंधित नेटवर्क को वित्तपोषित किया था और उसे पहले नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने भी गिरफ्तार किया था। ईडी का धनशोधन केस एनसीबी की शिकायत के आधार पर है।

Enforcement Directorate

अधिकारी ने दावा किया कि जैन कथित रूप से हवाला चैनल के जरिए फंड ट्रांसफर करने का एक अंतर्राष्ट्रीय सिंडिकेट चलाता है। वह इस कार्य को फर्जी कंपनी, टूर एंड ट्रेवल कंपनी और अपने बैंकिंग नेटवर्क के जरिए अंजाम देता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *