Chhattisgarh, 2 corona infected patients recover,

एम्स में स्पेशल ब्रेस्ट कैंसर क्लीनिक पुनः प्रत्येक बुधवार को

रोगियों की संख्या और उनके हित को देखते हुए लिया गया निर्णय

रायपुर. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, रायपुर ने एक बार पुनः स्पेशल ब्रेस्ट कैंसर क्लीनिक शुरू करने का निर्णय लिया है। यह क्लीनिक प्रत्येक बुधवार को सर्जरी विभाग में खुलेगा जहां महिलाओं के स्तन कैंसर की जांच कर आवश्यकता पड़ने पर उन्हें ऑपरेशन के लिए संभावित तिथियां दी जाएंगी।

एम्स में लॉकडाउन के बाद ओपीडी सहित स्पेशल क्लीनिक भी कोविड-19 के संक्रमण की संभावना को देखते हुए बंद कर दिए गए थे। अब रोगियों के हित को देखते हुए निदेशक प्रो. (डॉ.) नितिन एम. नागरकर ने इस पुनः शुरू करने की अनुमति दे दी है। पूर्व में इस क्लीनिक पर लगभग 30 महिलाएं स्तन कैंसर की जांच करवाने के लिए प्रत्येक बुधवार को आती थी जिनमें से औसतन पांच से सात महिलाओं को कैंसर का संक्रमण रोकने के लिए तुरंत ऑपरेशन करने की सलाह दी जाती थी।

अब पुनः छत्तीसगढ़ और निकटवर्ती राज्यों की महिलाओं के लिए यह क्लीनिक प्रारंभ हो गया है। क्लीनिक डी ब्लॉक के सर्जरी विभाग के कमरा नंबर तीन में आयोजित किया जाएगा। क्लीनिक के इंचार्ज डॉ. राधाकृष्ण रामचंदानी ने कहा है कि क्लीनिक में एम्स द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, थर्मल स्केनिंग और अन्य जरूरी उपायों को अपनाने के बाद महिलाओं का चेकअप किया जाएगा। यदि आवश्यकता पड़ी तो उन्हें तुरंत ऑपरेशन के लिए भी सारी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

ब्लड बैंक में रक्त की आवश्यकता बढ़ी

प्रदेश में अनलॉक की प्रक्रिया प्रारंभ होने के बाद एम्स के ब्लड बैंक में रक्त की मांग और अधिक बढ़ गई है। वर्तमान में यहां 400 यूनिट प्रतिमाह रक्त उपलब्ध हो पा रहा है जबकि आवश्यकता 550 यूनिट प्रतिमाह की होती है। ब्लड बैंक के इंचार्ज डॉ. संकल्प शर्मा ने सामाजिक संगठनों और रक्तदाताओं का आह्वान किया है कि वे विशेष शिविर आयोजित कर रक्तदान के लिए आगे आएं या ब्लड बैंक में संपर्क कर समूह में रक्तदान करें। इसके लिए ब्लड बैंक में सभी सुविधाएं प्रदान की गई हैं। रक्तदाताओं को एम्स में इलाज के लिए विशेष सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *