कश्मीर पर तुर्की के बयान का भारत ने दिया कड़ा जवाब, पाकिस्तान को भी लगाई फटकार

नई दिल्ली। कश्मीर पर तुर्की के बयान का भारत ने कड़ा जवाब दिया है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 को लेकर बीते दिनों तुर्की की ओर से किए गए बयान को तथ्यात्मक रूप से गलत, पक्षपातपूर्ण और गैजरूरी बताया है। गुरुवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि तुर्की भारत के आंतरिक मामलों में तब दखल दे जब उसे यहां की जमीनी हकीकत का पता हो। गौरतलब है कि पिछले साल 5 अगस्त को केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने का फैसला लिया था।

दरअसल, बीते दिनों तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन के कश्मीर की तुलना फलस्तीन से करने के साथ भारत पर कोरोना संकट के दौरान कश्मीर में अत्याचार करने का आरोप भी लगाया था। ईद उल अजहा के मौके पर एर्दोगन ने पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी और प्रधानमंत्री इमरान खान से बात की थी और कश्मीर के मामले में पाक को समर्थन देने की बात कही थी।

कुलभूषण जाधव के मामले में विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस संबंध में पाकिस्तान से अभी तक कोई संवाद प्राप्त नहीं हुआ है. मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान को उन्हें बिना रोक टोक के कोंसुलर एक्सेस मुहैया कराने की जरूरत है। हाल में ही इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने पाक सरकार को निर्देश दिया था कि जाधव के लिए वकील नियुक्त करने का भारत को एक और मौका दें।

पाकिस्तान की ओर से नया राजनीतिक नक्शा जारी किए जाने को लेकर श्रीवास्तव ने कहा, ‘इस प्रकार के बेतुके दावों से पता चलता है कि पाकिस्तान सीमा पार आतंकवाद का उपयोग करके अधिक क्षेत्रों पर नियंत्रण करना चाहता है।’ बता दें कि अपने नए राजनीतिक नक्शे में पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और पश्चिमी गुजरात के हिस्सों पर अपना दावा जताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *