कांग्रेस हाई कमान के खिलाफ चिट्ठी लिखने पर थरूर की किरकिरी, एक सांसद ने तो ये तक कह डाला..

नई दिल्ली। लगभग हर चुनाव में कांग्रेस के बुरे प्रदर्शन को देखते हुए पार्टी के ही 23 नेताओं ने पार्टी हाई कमान को एक पत्र लिखकर बड़े स्तर पर बदलाव की मांग की। लेकिन इस मांग को गंभीरता से लेने की बजाय कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में उन्हीं नेताओं को घेरा गया जिन्होंने ये चिट्ठी लिखी थी। हालांकि चिट्ठी लिखने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर अब केरल में पार्टी के ही कुछ नेताओं के निशाने पर आ गए हैं।

Banquet at Rashtrapati Bhavan

बता दें कि 23 वरिष्ठ नेताओं में शामिल पार्टी सांसद शशि थरूर को कांग्रेस के ही एक वरिष्ठ लोकसभा सदस्य ने उन्हें पार्टी में ‘अतिथि कलाकार’ की संज्ञा दे डाली है। थरूर पर निशाना साधते हुए केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्ष और लोकसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक कोडिकुनिल सुरेश ने शुक्रवार को कहा कि पार्टी में सभी को उसकी नीतियों और कार्यक्रमों के अनुसार चलना चाहिए।

ANi Tweet shashi Throor

मावेलीकारा से लोकसभा सदस्य सुरेश ने कहा, ”शशि थरूर निश्चित रूप से नेता नहीं हैं। वह अतिथि कलाकार के तौर पर कांग्रेस में आए थे। वह अब भी अतिथि कलाकार के रूप में पार्टी में बने हुए हैं।” सुरेश ने कहा कि थरूर ‘वैश्विक नागरिक हो सकते हैं, लेकिन उन्हें यह नहीं सोचना चाहिए कि वह कोई भी निर्णय ले सकते हैं या अपनी इच्छा से कुछ भी कह सकते हैं।

इस मुद्दे पर मीडिया से बात करते हुए सुरेश ने एक सवाल के जवाब में कहा, ”अंतत: उन्हें पार्टी के हिसाब से चलना होगा।” एक दिन पहले ही थरूर ने कहा था कि हम सभी का कर्तव्य है कि कांग्रेस के हित में मिलकर काम करें। थरूर ने बृहस्पतिवार को ट्वीट किया, ”मैं कांग्रेस में हाल की घटनाओं पर चार दिन से चुप था क्योंकि जब एक बार कांग्रेस अध्यक्ष ने कह दिया कि यह अब कोई मुद्दा नहीं रह गया है, तो हम सभी का कर्तव्य है कि हम साथ मिलकर पार्टी के हित में काम करें।”

kodikunnil suresh And Shashi tharoor

उन्होंने कहा, ”मैं अपने सभी साथियों से इस सिद्धांत को बरकरार रखने और बहस को समाप्त करने का अनुरोध करता हूं।” केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष तथा लोकसभा सांसद के. मुरलीधरन ने भी बृहस्पतिवार को इस मुद्दे पर थरूर पर निशाना साधते हुए उन्हें ‘वैश्विक नागरिक कहा था। तिरुवनंतपुरम अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे को 50 साल की लीज पर अडानी एंटरप्राइजेज को देने के केंद्र के कदम का खुलकर समर्थन करने के लिए भी थरूर केरल में कांग्रेस के नेताओं की आलोचनाओं का शिकार हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *