कामकाज ठीक न होने के कारण कई जिलों के DM पर गिरी गाज, योगी सरकार ने बदले गए 8 जिलों के DM, देखें पूरी लिस्ट

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सूबे में कामकाज ठीक से ना करने वाले जिलाधिकारियों पर गाज गिरा दी है। ऐसे जिलाधिकारियों की शिकायतें लगातार आ रही थी, जिसके बाद योगी सरकार ने ये कदम उठाया है। बता दें कि शुक्रवार की देर रात शासन ने आठ जिलों के जिलाधिकारियों को हटाते हुए उन्हें प्रतीक्षा सूची में डाल दिया है।

जिन जिलों के डीएम बदले गए हैं, उनमें मेरठ, इटावा, सीतापुर, ललितपुर, सुल्तानपुर, ग़ाज़ीपुर, मऊ, संतकबीरनगर के जिलाधिकारी शामिल हैं। इन जिलों में के बालाजी को मेरठ, श्रुति सिंह इटावा, विशाल भारद्वाज सीतापुर, ए दिनेश कुमार ललितपुर, रवीश गुप्ता सुलतानपुर, मंगला प्रसाद सिंह गाजीपुर, राजेश पांडेय मऊ, दिव्या मित्तल को संतकबीर नगर का जिलाधिकारी बनाया गया है।

C indumati And devmani
डीएम सी इंदुमती और विधायक देवमणि दुबे

सुल्तानपुर की बात करें तो आक्सी मीटर की ख़रीद को लेकर हुए विवाद पर जिले के लंभुआ विधानसभा के भाजपा विधायक देवमणि दुबे ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर डीएम सी इंदुमती को हटाने के लिए कहा था। वहीं ग़ाज़ीपुर के डीएम समेत सभी को कामकाज ठीक न होने के कारण हटाया गया है। मेरठ के डीएम अनिल ढीगड़ा, इटावा के जितेंद्र बहादुर सिंह, सीतापुर के अखिलेश तिवारी, ललितपुर के योगेश कुमार शुक्ला, सुलतानपुर की डीएम सी इंदुमती और मऊ के ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी को हटाते हुए प्रतीक्षा सूची में डाल दिया गया है।

CM Yogi Adityanath

इसके अलावा आईएएस के तबादलों से ठीक एक दिन पहले योगी सरकार ने 8 जिलों के कप्तान सहित 13 आईपीएस अधिकारियों के ट्रांसफर किए थे> इनमें हरदोई, कानपुर देहात, रायबरेली, हमीरपुर, उन्नाव, सिद्धार्थनगर, लखीमपुर खीरी, कुशीनगर समेत आठ जिलों के पुलिस कप्तान भी शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *