कोरोना के खिलाफ हम जीत रहे हैं जंग, यकीन ना आए तो देखिए एक्टिव मरीजों का गिरता आंकड़ा

  • भारत में सक्रिय मामलों में गिरावट का ट्रेंड बरकरार
  • दुनिया भर में प्रति दस लाख पर लगातार सबसे कम मामलों में से एक
  • लगातार तीसरे दिन सक्रिय मामले की संख्या छह लाख से नीचे
  • 17 राज्यों / केन्द्र शासित प्रदेशों में राष्ट्रीय औसत की तुलना में प्रति मिलियन कम मामले

भारत में सक्रिय मामलों में गिरावट की ट्रेंड लगातार जारी है। लगभग तीन महीनों के बाद सक्रिय मामलों की संख्या छह लाख से नीचे गिर जाने के बाद तीसरे दिन से सुधारवादी गिरावट बना हुआ है।

इस समय भारत में कुल सक्रिय मामले 5,70,458 है।

सक्रिय मामले देश के कुल सकारात्मक मामलों का केवल 6.97 प्रतिशत रह गया है, जो कुल मामलों के लगातार गिरते प्रतिशत को दर्शाता है।

केन्‍द्र सरकार के त​हत राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों द्वारा व्यापक परीक्षण की रणनीति, समय पर ट्रैकिंग, तुरंत अस्पताल में भर्ती कराने और मानक उपचार प्रोटोकॉल के पालन के परिणामस्वरूप यह सतत उप​लब्धि हासिल हुई है। मानक उपचार प्रोटोकॉल के पालन के तहत सार्वजनिक और निजी अस्पतालों और होम आइसोलेशन के मामलों के लिए चिकित्सा देखभाल की एक मानकीकृत गुणवत्ता सुनिश्चित की गई है।

विभिन्न राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में सक्रिय मामलों का प्रक्षेप पथ विविध रूप से कोविड-19 के खिलाफ उनकी लड़ाई में केंद्रित प्रयासों और क्रमिक प्रगति को दर्शाता है। कर्नाटक ने पिछले 24 घंटों में सक्रिय मामलों में भारी गिरावट दर्ज की गई है।

सक्रिय मामलों में लगातार गिरावट के साथ, भारत में प्रति मिलियन मामले दुनिया में सबसे कम हैं। भारत के प्रति मिलियन औसत मामले 5,930 हैं।

17 राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में राष्ट्रीय औसत की तुलना में प्रति मिलियन कम मामले हैं।

भारत में मौतों की संख्या में लगातार गिरावट आई है। देश में पिछले 24 घंटों में 470 मौतें हुई हैं। भारत की प्रति मिलियन जनसंख्या में मौत दुनिया में सबसे कम और 88 पर है।

21 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में राष्ट्रीय औसत की तुलना में प्रति मिलियन मौतें कम हैं।

सक्रिय मामलों के प्रतिशत का घटता ट्रेंड रिकवर मामलों के बढ़ते प्रतिशत के समर्थन में है। रिकवर के कुल मामले 74,91,513 हैं। रिकवर मामले और सक्रिय मामलों के बीच का अंतर 69 लाख (69,21,055) को पार कर गया है।

रिकवर की बढ़ती संख्या के साथ, यह अंतर लगातार बड़ा हो रहा है।

रिकवरी की अधिक संख्या ने राष्ट्रीय रिकवरी दर को 91.54 प्रतिशत तक सुधारने में मदद की है। पिछले 24 घंटों में 58,684 रिकवरी और डिस्चार्ज हुआ है जबकि पुष्टि किए गए नए मामले 46,963 है।

रिकवरी के नए मामलों में से 76 प्रतिशत मामले 10 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में केंद्रित हैं।

कर्नाटक, केरल और महाराष्ट्र में एक दिन में 7,000 से अधिक नई रिकवरी हुई है। दिल्ली और पश्चिम बंगाल दोनों राज्यों में 4,000 से अधिक की नई रिकवरी हुई है।

पिछले 24 घंटों में 46,963 नए पुष्ट मामले दर्ज किए गए हैं।

इनमें से 77 प्रतिशत मामले 10 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से हैं। केरल अभी भी 7,000 से अधिक मामलों के साथ सबसे आगे है। इसके बाद महाराष्ट्र और दिल्ली में 5,000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं।

पिछले 24 घंटों में 470 लोगों की मौत हुई है। इनमें से लगभग 78 प्रतिशत मामले दस राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में केंद्रित हैं।

नई मौतों में से 15 प्रतिशत से अधिक मौत महाराष्ट्र (74 मौत) में हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *