कोरोना के खिलाफ हम जीत रहे हैं जंग, एक्टिव केस की संख्या सात लाख से नीचे पहुंची

  • कुल संक्रमण मुक्त लोगों की संख्या 70 लाख से अधिक
  • 6 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों से कुल संक्रमण मुक्त मामले 61 प्रतिशत

भारत में संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार गिरावट का रुख कायम है। लगातार पिछले दो दिनों में संक्रमित मरीजों की संख्या 7 लाख से कम, यानी 6,80,680 पर कायम रही।

वर्तमान में देश में अबतक के कुल पॉजिटिव मामलों में से सिर्फ 8.71 प्रतिशत संक्रमित मरीज हैं।

संक्रमित मरीजों की संख्या में दिन-प्रतिदिन लगातार गिरावट जारी है। केन्द्र सरकार के सफल परीक्षण, उपचार एवं ट्रैकिंग की रणनीति को राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों द्वारा कार्यानन्वित किये जाने से यह संभव हुआ है।

राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में संक्रमित मामलों में बदलाव में अंतर दिखाई पड़ता है, जिससे विभिन्न राज्यों में इस वैश्विक महामारी के विरूद्ध संघर्ष के विभिन्न चरणों का पता चलता है।

पिछले कुछ सप्ताहों में प्रतिदिन संक्रमित मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है।

प्रतिदिन पॉजिटिव मामलों की दर में आ रही गिरावट को संक्रमित मामलों में आ रही गिरावट से भी मापा जा सकता है। संक्रमण से मुक्त कुल मामलों की संख्या 70 लाख से अधिक हो गई है और यह 70,16,046 पर कायम है। संक्रमण मुक्त होने की राष्ट्रीय दर बढ़कर 89.78 प्रतिशत हो गई है।

ठीक हुए रोगियों के 61 प्रतिशत मामले 6 राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों यानी महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और दिल्ली से हैं।

पिछले कुछ दिनों में संक्रमण से मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या, नये संक्रमण की तुलना में अधिक है। पिछले 24 घंटों में कोविड के 67,549 मरीज संक्रमण से मुक्त हुए और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई, जबकि संक्रमण के नये मामलों की संख्या 53,370 रही।

इनमें संक्रमण से मुक्त 77 प्रतिशत मामले 10 राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों में हैं। एक दिन में 13,000 से अधिक मामलों के साथ इसमें महाराष्‍ट्र का अधिकतम योगदान है।

पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 53,370 नये मामले सामने आये। इनमें से करीब 80 प्रतिशत मामले 10 राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों में हैं।

केरल में अधिकतम 8000 से अधिक मामले सामने आये और 7000 से अधिक मामलों के साथ महाराष्‍ट्र का दूसरा स्थान है।

पिछले 24 घंटों में मौतों के 650 मामले सामने आये।

इनमें से, लगभग 80 प्रतिशत मामले 10 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों से हैं। महाराष्ट्र से अधिकतम 184 मौतों के मामले सामने आये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *