चीनी घुसपैठ: राहुल ने पूछा, सीन से गायब क्यों हैं पीएम मोदी?

नईदिल्ली. लद्दाख में एलएसी पर पिछले एक महीने से ज्यादा वक्त से भारत और चीन के बीच गतिरोध जारी है। भारत और चीन से जारी इस गतिरोध को खत्म करने के राजनयिक और सैन्य स्तर पर बातचीत का दौर जारी है, फिलहाल कोई ठोस समाधान नहीं निकल पाया है।

इन सबके बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लद्दाख में एलएसी पर जारी गतिरोध को लेकर केंद्र सरकार पर लगातार हमलावर रहैं। वो केंद्र सरकार से स्थिति को स्पष्ट करने और यह बताने की मांग कर कह रहे हैं कि चीनी सैनिक भारतीय क्षेत्र में दाखिल हुए या नहीं।

राहुल गांधी ने आज एकबार फिर ट्वीट कर कहा है कि ‘चीन आया और उसने लद्दाख में हमारे इलाके पर कब्जा कर लिया। इस बीच, प्रधानमंत्री पूरी तरह खामोश हैं और परिदृश्य से गायब हैं।’ राहुल ने अपने ट्वीट लिखा है कि ‘लद्दाख में चीनी हमारे क्षेत्र में दाखिल हो गए। इस बीच, प्रधानमंत्री पूरी तरह खामोश हैं और कहीं नजर नहीं आ रहे।’

यह पहला मौका नहीं है जब राहुल गांधी ने चीन से जारी गतिरोध को लेकर सवाल उठाया है। इससे पहले आठ जून को राहुल गांधी ने अमित शाह के बयान पर तंज कसते हुए ट्वीट किया था, ‘सब को मालूम है ‘सीमा’ की हकीकत लेकिन, दिल को खुश रखने को, ‘शाह-यद’ ये ख्याल अच्छा है।’ इसका जवाब देते हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि मिर्जा गालिब का ही शेर थोड़ा अलग अंदाज में है। ‘हाथ’ में दर्द हो तो दवा कीजै, ‘हाथ’ ही जब दर्द हो तो क्या कीजै।

इसके बाद राजनाथ की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए राहुल ने कहा था कि रक्षा मंत्री का हाथ पर टिप्पणी करना खत्म हो जाए, तो वह इस सवाल का जवाब दे सकते हैं- क्या लद्दाख में चीनी सैनिकों ने भारतीय क्षेत्र पर कब्जा किया है?

गौरतलब है कि भारत और चीन की सेनाओं ने सीमा पर गतिरोध के शांतिपूर्ण समाधान के अपने संकल्प को प्रदर्शित करते हुए पूर्वी लद्दाख के कुछ गश्त बिंदुओं से ‘सांकेतिक वापसी’ के तौर पर अपने सैनिकों को वापस बुलाया है। वहीं, इस मुद्दे पर दोनों पक्ष बुधवार को एक और दौर की मेजर जनरल स्तर की वार्ता करने वाले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *