छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने सीरो सर्वे कराएगी सरकार

स्वास्थ्य विभाग ने आईसीएमआर को लिखा पत्र

रायपुर. छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की स्थिती को देखते हुए हर्ड इम्युनिटी का पता लगाने के लिए राज्य सरकार सभी जिलों में सीरो सर्वे (Sero survey) कराएगी। प्रदेश में सीरो सर्वे हो सके इसलिए स्वास्थ्य विभाग ने इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च भुवेनश्वर ब्रांच को पत्र भी लिखा गया है। जल्द ही प्रदेश में सीरो सर्वे (Sero survey) शुरू किया जाएगा।

आपको बता दे कि केंद्र सरकार के निदेरश पर आईसीएमआर ने राज्य के 10 जिलो में सीरो सर्वे पूरा किया है। इस सर्वे के तहत हाई रिस्क ग्रुप और सामान्य लोगों से 500-500 सैंपल लिए गए हैं। सभी सैंपल में एंटीबॉडी इम्यूनोग्लोबुलि जी और एम की जांच की गई। आइसीएमआर को पत्र लिखने की पुष्टि स्टेट कोविड कमांड सेंटर के चिकित्सा विशेषज्ञ डॉ धर्मेंद्र गहवई ने की है।

13.41 प्रतिशत लोग में एंटीबॉडी

ICMR द्वारा जारी 3 जिलों की रिपोर्ट में रायपुर के 13.41, दुर्ग के 8.31 और राजनांदगांव के 3.76 प्रतिशत लोगों में एंटीबॉडी पाई गई है। इस रिपोर्ट के आधार पर स्वास्थ्य विभाग इन जिलों में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए अलग रणनीति की तहत काम कर रहा है। अन्य जिलों में तेजी से संक्रमण पांव पसार रहा है। ऐसी स्थिति में कोरोना पर नियंत्रण लगाने के लिए प्रदेश सरकार सभी जिलों में सीरो सर्वे कराकर रिपोर्ट आने के बाद रणनीति बनाकर कोरोना को खत्म करने की तैयारी कर रही है।

इसलिए होता है सीरो सर्वे

किस जिले में कितने प्रतिशत लोग संक्रमण की चपेट में आ रहे हे? इस बात की आकलन करने के लिए सीरो सर्वे (Sero survey) कराया जाता है। सर्वे में नतीजे के आधार पर यह माना जाता है, कि उस इलाके की कितनी आबादी संक्रमित हो चुकी है या उनमें महामारी के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित हो गई है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *