पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर

नई दिल्ली. पेट्रोल और डीजल के दाम में शनिवार को लगातार पांचवें दिन स्थिरता बनी रही, लेकिन अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इस सप्ताह कच्चे तेल की कीमतों में मजबूती बनी रही। ब्रेंट क्रूड का भाव पिछले सप्ताह के मुकाबले करीब दो फीसदी उछला।

हालांकि बाजार के जानकार बताते हैं कि कच्चे तेल का दाम जब तक 45 डॉलर प्रति बैरल से नीचे है, तब तक पेट्रोल और डीजल के दाम में वृद्धि की संभावना कम है क्योंकि पेट्रोल और डीजल का भाव पहले ही काफी बढ़ चुका है।

बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड का भाव इस सप्ताह 43 डॉलर के ऊपर तक उछला, लेकिन सप्ताह के आखिर में थोड़ा फिसलकर 42.80 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ।

देश की राजधानी दिल्ली में पिछले महीने डीजल के दाम में 11.14 रुपये लीटर का इजाफा हुआ है जबकि पेट्रोल की कीमत 9.17 रुपये लीटर बढ़ गई है। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में पेट्रोल से महंगे भाव पर डीजल बिक रहा है।

पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी की वजह कच्चे तेल में विगत दिनों आई तेजी के साथ-साथ दोनों ईंधनों पर करों में वृद्धि भी है। दिल्ली में पेट्रोल 80.43 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है, जिसमें 51.54 रुपये प्रति लीटर टैक्स है। इसी प्रकार डीजल की कीमत 80.53 रुपये लीटर में 50.66 रुपये प्रति लीटर टैक्स है।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का भाव बिना किसी बदलाव के क्रमश: 80.43 रुपये, 82.10 रुपये, 87.19 रुपये और 83.63 रुपये प्रति लीटर बना हुआ है। डीजल का दाम भी चारों महानगरों में पूर्ववत क्रमश: 80.53 रुपये, 75.64 रुपये, 78.83 रुपये और 77.72 रुपये प्रति लीटर बना हुआ है।

तेल विपणन कंपनियों ने बीते महीने जून में 22 बार डीजल के दाम में वृद्धि की और पेट्रोल की कीमत में 21 बार बढ़ोतरी की गई। अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकॉन्टिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड का सितंबर वायदा अनुबंध शुक्रवार को पिछले सत्र से 0.79 फीसदी की कमजोरी के साथ 42.80 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ जबकि सप्ताह के दौरान कच्चे तेल का भाव 43.23 डॉलर प्रति बैरल तक उछला।

बीते सप्ताह अमेरिका में कच्चे तेल का भंडार घटने से कच्चे तेल के दाम में तेजी देखने को मिली। वहीं, न्यूयार्क मर्चेंटाइल एक्सचेंज (नायमैक्स) पर अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) का अगस्त वायदा अनुबंध शुक्रवार को पिछले सत्र से 0.91 फीसदी की कमजोरी के साथ 40.28 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *