प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए आयोग का गठन महत्वपूर्ण कदम: Javadekar

नयी दिल्ली। केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और आस-पास के राज्यों में बढते जानलेवा प्रदूषण पर रोक लगाने के उपाय सुझाने के लिए गठित आयोग को एक महत्वपूर्ण कदम करार दिया है।

श्री जावड़ेकर ने केन्द्रीय मंत्रिमंडल की आज यहां हुई बैठक के बाद एक सवाल के जवाब में संवाददाताओं से कहा,'' इस आयोग का गठन महत्वपूर्ण कदम है। आयोग के पास प्रदूषण से निपटने के लिए विभिन्न कदम उठाने की पूरी ताकत है। इससे राजधानी सहित आस पास के क्षेत्रों में प्रदूषण कम करने में मदद मिलेगी।

उल्लेखनीय है कि सरकार ने विकराल रूप धारण कर रही प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए एक आयोग का गठन करने का निर्णय लिया था जिससे संबंधित अध्यादेश को राष्ट्रपति ने मंजूरी दे दी है। आयोग प्रदूषण की स्थिति की निगरानी के साथ साथ इस पर रोक लगाने के उपाय सुझायेगा। इस आयोग में कुल 17 सदस्य होंगे और यह जनता की भागीदारी और समन्वय पर जोर देगा।

एथनॉल की कीमतों में वृद्धि के बारे में पूछे गये सवाल कि इससे किसानों को कैसे फायदा होगा उन्होंने कहा कि इससे एथनॉल बनाने वाली इकाईयों की आमदनी बढेगी और वे इस पैसे से किसानों को तुरंत भुगतान कर सकेंगे जिससे किसानों को फायदा होगा। गौरतलब है कि मंत्रिमंडल की आज हुई बैठक में एथनॉल की कीमत में बढोतरी करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी है।(एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *