Corona virus in india, Number of infected, Growing fast,

भारत में सात लाख के पार पहुंची संक्रमितों की संख्या

नई दिल्ली. देश में एक दिन में कोविड-19 के मामलों में बड़ी उछाल आने के बाद सोमवार को भारत में कोरोना वायरस से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या सात लाख के पार चली गई। सिर्फ चार दिन पहले देश में संक्रमितों की संख्या छह लाख पहुंची थी। देश में संक्रमण से 20,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है ।

आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोविड-19 के मामले 7,11,878 हो गए हैं जबकि मृतकों की संख्या 20,139 हो गई है। इन आंकड़ों को संबंधित राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की तरफ से मुहैया कराए गए आंकड़ों को जोड़कर तैयार किया गया है।

देश में लगातार चौथे दिन कोरोना वायरस के संक्रमण के बीस हजार से अधिक मामले सामने आए हैं। भारत रविवार को रूस को पीछे छोड़ते हुए कोविड-19 से सर्वाधिक प्रभावित होने वाला तीसरा देश बन गया। संक्रमण के कुल मामलों में अब केवल अमेरिका और ब्राजील ही भारत से आगे है। आंकड़ों के अनुसार, अब तक देश में कोविड-19 के 4,24,432 मरीज उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं और 2,53,287 मरीजों का इलाज चल रहा है।

मंत्रालय ने बताया कि “अब तक 60.86 प्रतिशत मरीज ठीक हो चुके हैं।” कोरोना वायरस के कुल मामलों में वे विदेशी भी शामिल हैं जिनकी भारत में की गई जांच में संक्रमण की पुष्टि हुई। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घंटे में तीन लाख 46 हजार 459 नमूनों की जांच हुई है, जिससे कुल जांच की संख्या एक करोड़ एक लाख 35 हजार 525 हो गई है।

आईएएससी ने 15 अगस्त तक कोरोना वायरस का टीका जारी करने का लक्ष्य अव्यवहारिक

वहीं बेंगलुरू स्थित वैज्ञानिकों की संस्था इंडियन एकेडमी ऑफ साइंसेज (आईएएससी) ने कहा है कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् (आईसीएमआर) द्वारा 15 अगस्त को कोरोना वायरस का टीका जारी करने का लक्ष्य ”अव्यावहारिक” और ”हकीकत से परे” है।

आईएएससी ने कहा कि नि:संदेह इसकी तुरंत जरूरत है, लेकिन मानवीय जरूरत के लिए टीका विकसित करने के लिए चरणबद्ध तरीके से वैज्ञानिक पद्धति से क्लीनिकल परीक्षण की आवश्यकता होती है। आईएएससी ने बयान जारी कर कहा कि प्रशासनिक मंजूरियों में तेजी लाई जा सकती है लेकिन ”प्रयोग की वैज्ञानिक प्रक्रियाओं और डेटा संग्रहण की नैसर्गिक समय अवधि होती है जिस पर वैज्ञानिक मानकों से समझौता नहीं किया जा सकता।”

आईएएससी ने बयान में आईसीएमआर के पत्र का जिक्र किया जिसमें कहा गया है कि ”टीका के सभी क्लीनिकल परीक्षण पूरा होने के बाद इसे अधिकतम 15 अगस्त 2020 तक आम आदमी के स्वास्थ्य के लिए जारी करने पर विचार किया जा सकता है।” विश्वभर से कोविड-19 पर आंकड़े एकत्रित कर रहे अमेरिका के जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के अनुसार महामारी से होने वाली मौतों की संख्या के मामले में भारत विश्व में आठवें स्थान पर है।

पिछले 24 घंटों में हुई मौतें
पिछले चौबीस घंटे में कोविड-19 से हुई 425 मौत में से 151 मरीजों की मौत महाराष्ट्र में हुई। इसके साथ ही दिल्ली में 63, तमिलनाडु में 60, कर्नाटक में 37, पश्चिम बंगाल में 21, गुजरात में 18, आंध्र प्रदेश में 14, उत्तर प्रदेश में 12, मध्य प्रदेश में दस, राजस्थान में नौ, तेलंगाना में सात, बिहार में छह, जम्मू कश्मीर और हरियाणा में पांच-पांच, पंजाब, झारखंड और ओडिशा में दो-दो और गोवा में एक मरीज की मौत हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *