मतगणना के निर्णायक रुझान आने के बाद Kamal Nath कार्यालय से रवाना हुए

भोपाल।मध्यप्रदेश में 28 विधानसभा उपचुनावों के लिए मतों की गिनती जारी रहने के बीच पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज कहा कि वे जनता का निर्णय स्वीकार करेंगे। श्री कमलनाथ मतगणना शुरू होने के कुछ देर बाद प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पहुंच गए थे। वहीं से अपनी टीम के साथ नतीजों पर नजर रखे हुए थे। निर्णायक रुझान आने के बाद वे प्रदेश कांग्रेस कार्यालय से रवाना हो गए। कांग्रेस कार्यालय में निराशा का वातावरण साफ तौर पर दिखायी दिया।

इस दौरान संवाददाताओं के सवालों के जवाब में श्री कमलनाथ ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में वे जनता के निर्णय का स्वागत करेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अभी पूरे नतीजे आने दीजिए।
दोपहर तक आए रुझानों के अनुसार 28 में से 2० पर सत्तारूढè दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और सात पर कांग्रेस आगे चल रही है। एक सीट पर बसपा के आगे रहने की सूचनाएं हैं।

नवंबर दिसंबर 2०18 के विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद 17 दिसंबर 2०18 को श्री कमलनाथ ने राज्य में 15 वर्षों के बाद कांग्रेस की सरकार बनने पर मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। लगभग सवा साल बाद इसी वर्ष मार्च माह में कांग्रेस के लगभग 22 विधायकों ने बगावती तेवर दिखाते हुए विधायक पद से त्यागपत्र दे दिया और वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिधिया की तरह उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया। इन स्थितियों के बीच श्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद से 2० मार्च को त्यागपत्र दे दिया था। इसके बाद भी कांग्रेस को लगातार झटके लगते रहे और उसके कुल 26 विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता से त्यागपत्र देकर भाजपा का दामन थामा।

कांग्रेस ने 28 सीटों पर उपचुनाव में'बिकाऊ और टिकाऊका मुद्दा जोरशोर से उठाने का प्रयास किया, लेकिन आज के नतीजों से प्रतीत होता है कि मतदाताओं ने कांग्रेस के मुद्दे को पूरी तरह नकार दिया है।(एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *