सफारी में बनेगा वन्य प्राणियों का आशियाना

10 नए बाड़े तैयार करेगा वन विभाग

रायपुर। जंगल सफारी (JANGAL SAFARI) में वन्य प्राणियों की संख्या में इजाफा हो और उन्हें सुरक्षित वातावरण मिले, इसलिए वन विभाग के अधिकारी 10 नए बाडा बनाने की तैयारी कर रहे है।

विभागीय अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार बनने वाले नए बाड़ों के लिए राशि मुख्यालय से जंगल सफारी प्रबंधन को जारी कर दी गई है। सफारी में बनने वाले बाड़ों का टेंडर भी वन विभाग ने कर दिया है। कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद जनवरी माह के पहले हफ्ते में बाड़ों का निर्माण कार्य शुरू कर दियसा जाएगा। इन 10 नए बाड़ों को मिलाने के बाद जंगल सफारी में अब 26 बाड़े हो जाएंगे। इन बाड़ों में सफारी में विचरण कर रहे वन्य प्राणी और दूसरे राज्यों से आए वन्य प्राणियों को रखा जाएगा।

6 करोड़ रुपए हुए स्वीकृत

जंगल सफारी (JANGAL SAFARI) प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार 10 नए बाड़ों का निर्माण कराने के लिए 6 करोड़ रुपए स्वीकृत हुए है। हर बाड़े की लागत सफारी प्रबंधन ने 55 से 60 लाख के बीच रखी है। बाड़ों का निर्माण अच्छा हो, इसलिए इस बार टेंडर में बेरोजगार इंजीनियरों को भी शािमल किया गया है। प्रबंधन के जिम्मेदारों की मानें तो 10 नए बनने वालों बाड़ो का सफारी में अन्य वाले वन्य प्राणियों और सरीसर्प के मद्देनजर बनाया जाएगा।

26 प्रतिशत बिलो गया टेंडर

जंगल सफारी (JANGAL SAFARI) प्रबंधन ने निर्माण कार्य के लिए जो टेंडर किया है, वो रेट से लगभग26 प्रतिशत बिलो गया है। इस प्रक्रिया से जंगल सफारी प्रबंधन को फायदा होगा। काम की गुणवत्ता बिलो रेट होने की वजह से प्रभावी ना हो, इसलिए सफारी के जिम्मेदार पीडब्ल्यूडी की मदद लेंगे। ठेकेदार द्वारा इस्तेमाल किए गए माल की पहले पीडब्ल्यूडी के विशेषज्ञ जांच करेंगे और उसके बाद निर्माण कार्य शुरू होगा। सफारी प्रबंधन के जिम्मेदारों की मानें तो बाड़े तय समय पर हो, इसलिए पूर्व से ही ठेकेदारों को निर्देश दिया जा चुका है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *