सिनेमा के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए हमेशा काम किया: Ayushmann Khurrana

मुंबई।टाइम पत्रिका द्बारा विश्व के सौ सर्वाधिक प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में शामिल अभिनेता आयुष्मान खुराना ने बुधवार को कहा कि सिनेमा द्बारा समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाना हमेशा से उनका लक्ष्य रहा है।

खुराना ने रियलिटी शो में प्रतिभागी के तौर पर शुरुआत की थी और तब से उन्होंने लोकप्रिय टीवी कार्यक्रमों के संचालन से लेकर फिल्मों तक कई भूमिकाएं निभाई हैं। उन्होंने बॉलीवुड में 2०12 में “विकी डोनर” से कदम रखा और बाद में उन्होंने “दम लगा के हईशा”, “बरेली की बर्फी”, “शुभ मंगल सावधान”, “बधाई हो” और “आर्टिकल 15” जैसी सामाजिक मुद्दों पर आधारित फिल्मों से खुद को स्थापित किया।
टाइम पत्रिका की सूची में स्थान पाने वाले वह तीन भारतीयों में से एक हैं।

खुराना के अलावा सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शाहीन बाग की 'दादी शामिल हैं। प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में भारतीय मूल के दो व्यक्ति- गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई और एड्स के उपचार की खोज करने वाले लंदन स्थित डॉक्टर रविद्र गुप्ता शामिल हैं। खुराना सबसे कम उम्र के भारतीय हैं जिन्हें इस साल टाइम पत्रिका में स्थान मिला। उन्होंने कहा कि वह इस सम्मान के लिए आभारी हैं।

खुराना ने एक वक्तव्य में कहा, “एक कलाकार के तौर पर, मैंने सिनेमा के माध्यम से समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए काम किया है। यह क्षण मेरी मान्यताओं और विचारों को पुष्ट करता है।” खुराना ने कहा कि उनका मानना है कि सिनेमा में इतनी शक्ति है कि इसके द्बारा समाज में लोगों के बीच सही मुद्दे उठाकर बदलाव लाया जा सके।(एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *