छात्रों को क्लास से निकालने की दे रहे धमकी

रायपुर। जिले के निजी स्कूलों (PRIVATE SCHOOL) की मनमानी कम होने का नाम नहीं ले रही है। निजी स्कूल के संचालक अपने यहां पढऩे वाले छात्रों से हर वर्ष एडमिशन शुल्क ले रहे है। निजी स्कूलों की इस मनमानी की शिकायत पालकों ने स्कूल शिक्षा विभाग को की, तो निजी स्कूल प्रबंधको ने एडमिशन शुल्क को किश्तों में बाटकर छात्रों के मंथली शुल्क में जोड़ दिया है।

स्कूल प्रबंधन (PRIVATE SCHOOL) की इस मनमानी का पालको ने विरोध किया, तो बच्चों को फेल करने की धमकी देते हुए निजी स्कूल के संचालक पालकों पर दबाव बना रहे है। पालकों का कहना है, कि प्रबंधन की मनमानी की शिकायत विभागीय अधिकारियों से की जाएगी, ताकि ठोस कार्रवाई हो और समस्या का समाधान हो सके।

देवेंद्र नगर इलाके में संचालित है स्कूल

परिजनों ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया, कि उक्त स्कूल देवेंद्र नगर इलाके में संचालित है। उक्त स्कूल में पिछले वर्ष बच्चें का प्रवेश कराया था। पिछले वर्ष भी स्कूल प्रबंधन ने प्रवेश शुल्क लिया और शिक्षा सत्र 2020-21 में प्रवेश शुल्क लगा दिया। पालकों ने प्रवेश शुल्क को विरोध किया, तो प्रबंधन ने कुछ दिन इस शुल्क की चर्चा नहीं की, लेकिन फिर सीधे इसे फीस में जोड़ दिया। फीस जमा करने के लिए अब छात्रों और पालकों पर दबाव प्रबंधन द्वारा बनाया जा रहा है।

CBSE- ICSE बोर्ड के स्कूल ज्यादा कर रहे मनमानी

सीजी बोर्ड (PRIVATE SCHOOL) की अपेक्षा लॉकडाउन में सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड के स्कूलों ने जिले के पालकों को ज्यादा परेशान किया है। बच्चों का भविष्य बर्बाद ना हो, इसलिए कुछ पालकों ने समझौता कर शुल्क जमा कर दिया। जो पालक विरेाध कर रहे है,उनके बच्चों के साथ प्रबंधन द्वारा दोहरा रवैया अपनाया जा रहा है। उक्त मामलें में जनप्रतिनिधियों के निर्देश के बाद कुछ स्कूलों ने नर्मी बरती, लेकिन शेष स्कूलों की मनमानी अभी भी जारी है।

केवल एक ही बार शुल्क लेने का प्रावधान

जानकारों की मानें तो प्रवेश शुल्क का भुगतान छात्र को तभी करना होता है, जब वो स्कूल में प्रवेश लेता है। हर साल प्रवेश शुल्क देने का नियम नहीं है। प्रवेश शुल्क वसूलकर स्कूल प्रबंधन छात्र और पालकों को गुमराह कर रहा है। जो भी स्कूल प्रबंधन शुल्क ले रहे है, वो पूरी तरह से गलत काम कर रहे है। स्कूलों की मनमानी की शिकायत राजधानी में विधानसभा, मोवा, पंडरी, देवेंद्र नगर, राजेंद्र नगर, वीआईपी रोड, डीडी नगर, आमानाका, आजाद चौक, भाठागांव, संतोषी नगर और पुलिस लाइन।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.