इंटरनेट डेस्क। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के आसपास पिछले कई दिनों से चल रहा किसान आंदोलन अभी समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है। किसान तीन नए केन्द्रीय कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं। 

इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों को भ्रम फैलाने वालों से सतर्क रहने का आह्वान करते हुए कहा कि यदि उन्हें किसी प्रकार की आशंका है, तो सरकार उनसे उस मुद्दे पर बात के लिए सदैव तैयार है। पीएम मोदी ने ये बात वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मध्यप्रदेश के लाखों किसानों से किसान महासम्मेलन के जरिए किए गए संवाद के दौरान कही। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने भाषण के दौरान किसानों को नए कानूनों के प्रावधानों के बारे में तथ्यों के साथ विस्तार से जानकारी दी। लगभग 50 मिनट के अपने भाषण में मोदी ने बताया कि तीनों नए कानून पूरी तरह किसानों तथा कृषि क्षेत्र में बेहतरी को लेकर हैं।  इस दौरान उन्होंने तीनों कृषि कानूनों को लेकर राजनैतिक दलों पर असत्य बोलकर भ्रम फैलाने की राजनीति करने का आरोप लगाया है। 

 

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.