CWG: भारत में मेडल की बरसात, नौवें दिन कुश्ती में जीते 3 गोल्‍ड, 4 मुक्केबाज फाइनल में

बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों (Commonwealth Games) में कुश्ती में भारतीय पहलवानों का कमाल जारी है। नौवें दिन (शनिवार) कुश्ती में भारत ने कुल छह पदक जीते। इनमें तीन स्वर्ण और तीन कांस्य पदक (three gold and three bronze medals) शामिल हैं। वहीं, आठवें दिन (शुक्रवार) भी कुश्ती में भारत ने तीन स्वर्ण समेत छह पदक जीते थे। ऐसे में कुश्ती में भारत (India) के कुल पदकों की संख्या 12 हो गई है। इनमें छह स्वर्ण, एक रजत और पांच कांस्य पदक शामिल हैं। भारतीय कुश्ती टीम (Indian wrestling team) ने स्वर्ण के मामले में 2018 गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों को पीछे छोड़ दिया है। 2018 में भारत ने कुश्ती में पांच स्वर्ण जीते थे।

बाएं से- नीतू, अमित, निकहत और सागर
वहीं, बॉक्सिंग में भी भारतीय एथलीट्स (Indian Athletes) का जलवा जारी है। नौवें दिन भारत के चार मुक्केबाज (नीतू, अमित पंघाल, निकहत जरीन और सागर अहलावत) फाइनल में पहुंचकर कम से कम रजत पक्का कर लिया है। वहीं, रोहित टोकस, मोहम्मद हुसामुद्दीन और जैस्मिन सेमीफाइनल में हार गए और कांस्य पदक अपने नाम किया।बैडमिंटन में पुरुषों और महिलाओं के सिंगल्स में पीवी सिंधु, किदांबी श्रीकांत और लक्ष्य सेन सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं। वहीं, मेन्स डबल्स में सात्विकसाईराज रैंकरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी सेमीफाइनल में पहुंच गई है।

 

शरत कमल
टेबल टेनिस (table tennis) में श्रीजा अकुला रविवार को महिला सिंगल्स के ब्रॉन्ज मेडल के मैच में उतरेंगी। इसके अलावा दिग्गज अचंता शरत कमल दो गोल्ड मैच खेलेंगे। वह मेन्स डबल्स और मिक्स्ड डबल्स के फाइनल में उतरेंगे। पैरा टेबल टेनिस में भाविना ने शनिवार को गोल्ड मेडल जीता।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 (Commonwealth Games 2022) में भारत अब तक 40 पदक जीत चुका है। आज कुश्ती में रवि दहिया, नवीन और विनेश फोगाट ने स्वर्ण जीता। इसके अलावा पैरा टेबल टेनिस में भाविना को स्वर्ण मिला। दस हजार मीटर पैदल चाल में प्रियंका, 3000 मीटर स्टीपलचेज में अविनाश साबले और लॉन बॉल में पुरुष टीम ने रजत पदक जीता।

भारत के पदक विजेता
13 स्वर्णः मीराबाई चानू, जेरेमी लालरिनुंगा, अंचिता शेउली, महिला लॉन बॉल टीम, टेबल टेनिस पुरुष टीम, सुधीर (पावर लिफ्टिंग), बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक, दीपक पूनिया, रवि दहिया, विनेश फोगाट, नवीन, भाविना (पैरा टेबल टेनिस)

11 रजतः संकेत सरगर, बिंदियारानी देवी, सुशीला देवी, विकास ठाकुर, भारतीय बैडमिंटन टीम, तूलिका मान, मुरली श्रीशंकर, अंशु मलिक, प्रियंका, अविनाश साबले, पुरुष लॉन बॉल टीम

16 कांस्यः गुरुराजा पुजारी, विजय कुमार यादव, हरजिंदर कौर, लवप्रीत सिंह, सौरव घोषाल, गुरदीप सिंह, तेजस्विन शंकर, दिव्या काकरन, मोहित ग्रेवाल, जैस्मिन, पूजा गहलोत, पूजा सिहाग, मोहम्मद हुसामुद्दीन, दीपक नेहरा, रोहित टोकस, सोनलबेन (पैरा टेबल टेनिस)

पहले जानें नौवां दिन भारत के लिए कैसा रहा
विनेश फोगाट, नवीन और रवि दहिया
विनेश फोगाट, नवीन और रवि दहिया – फोटो : सोशल मीडिया
भारतीय पुरुष हॉकी टीम फाइनल में।
भारतीय महिला क्रिकेट टीम फाइनल में।
कुश्ती में नवीन, विनेश फोगाट और रवि दहिया ने जीता गोल्ड।
कुश्ती में भारत को तीन ब्रॉन्ज मेडल जीते।
बैडमिंटन में सिंगल्स में सिंधु, किदांबी, लक्ष्य सेमीफाइनल में।
बैडमिंटन में महिला डबल्स में त्रिशा और गायत्री सेमीफाइनल में।
बैडमिंटन में मेन्स डबल्स में सात्विक-चिराग की जोड़ी सेमीफाइनल में।
पैरा टेबल टेनिस में भाविना पटेल ने जीता गोल्ड।
एथलेटिक्स में प्रियंका और अविनाश साबले ने रजत पदक जीता।
बॉक्सिंग में जैस्मिन, रोहित और हुसामुद्दीन ने जीता कांस्य।
बॉक्सिंग में निकहत, नीतू, अमित और सागर फाइनल में।
हैमर थ्रो में मंजू बाला 12वें स्थान पर रहीं।
मनिका बत्रा इन राष्ट्रमंडल खेलों में कोई पदक नहीं जीत सकी।
स्क्वैश के मिक्स्ड डबल्स में पिछली बार की रजत विजेता दीपिका पल्लीकल और सौरव घोषाल की जोड़ी को मिली हार।
लॉन बॉल में भारतीय पुरुष टीम ने जीता रजत।

भारतीय पुरुष हॉकी टीम फाइनल में
बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में भारतीय पुरुष हॉकी टीम फाइनल में पहुंच गई है। सेमीफाइनल में टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को 3-2 से हरा दिया। भारत के लिए अभिषेक, मनदीप सिंह और जुगराज सिंह ने गोल दागे। वहीं, दक्षिण अफ्रीका की ओर से मुस्तफा कसीम और रेयान जूलियस ने गोल दागे। बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल में भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से होगा। ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे सेमीफाइनल में इंग्लैंड को 3-2 से हराया।

भारतीय टीम तीसरी बार राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल में पहुंची है। इसके साथ ही भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने कम से कम रजत पदक पक्का कर लिया है। इससे पहले टीम 2010 दिल्ली और 2014 ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल में पहुंची थी। तब ऑस्ट्रेलिया ने भारत को स्वर्ण पदक के मैच में हराया था।

भारतीय महिला क्रिकेट टीम फाइनल में
भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने राष्ट्रमंडल खेलों के सेमीफाइनल में मेजबान इंग्लैंड को चार रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही टीम इंडिया फाइनल में पहुंच गई। उसने कम से कम रजत पदक पक्का कर लिया है। क्रिकेट में भारत को पहली बार पदक मिलेगा। पिछली बार 1998 में पुरुष टीम खाली हाथ लौटी थी। महिला टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में पांच विकेट पर 164 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड की टीम छह विकेट पर 160 रन ही बना सकी।

रवि दहिया, विनेश फोगाट और नवीन स्वर्ण पदक के साथ
भारतीय पहलवानों ने बर्मिंघम में रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन किया। स्टार पहलवान विनेश फोगाट (53 भारवर्ग), रवि दहिया (57 भारवर्ग) और नवीन (74 भारवर्ग) ने राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीते। भारत ने कुश्ती में कुल छह स्वर्ण जीते हैं। राष्ट्रमंडल खेलों विनेश का यह लगातार तीसरा स्वर्ण पदक है। विनेश ने फाइनल में श्रीलंका की चोमोडया केशनी मदुरावलेग से 4-0 से हराया। इससे पहले उन्होंने ग्लास्गो (2014) और गोल्ड कोस्ट (2018) में स्वर्ण पदक जीता था।

वहीं टोक्यो ओलंपिक के रजत पदक विजेता रवि कुमार दहिया ने नाइजीरिया के एबिकेवेनिमो वेल्सन 10-0 से हराया। राष्ट्रमंडल खेलों में रवि का यह पहला पदक है। 74 किलो भारवर्ग के फाइनल में नवीन ने पाकिस्तान के मुहम्मद शरीफ ताहिर को 9-0 से पटकनी दी। इससे पहले उन्होंने क्वार्टर फाइनल में सिंगापुर के होंग यू लू को 10-0 से और सेमीफाइनल में इंग्लैंड के चार्ली बॉलिंग को 12-1 से हराया।

पूजा गहलोत, पूजा सिहाग और दीपक नेहरा ने कुश्ती में जीता कांस्य
पूजा गहलोत ने महिलाओं की फ्रीस्टाइल 50 किलो वर्ग में कांस्य जीता। पूजा ने स्कॉटलैंड की क्रिस्टिले लेमोफैक को 12-2 से हराया। पूजा का राष्ट्रमंडल खेलों में यह पहला पदक है। उन्होंने 2019 में अंडर-23 चैंपियनशिप में रजत पदक हासिल किया था।

भारत को पूजा सिहाग ने कुश्ती में कांस्य दिलाया। उन्होंने फ्रीस्टाइल 76 किलो वर्ग में ऑस्ट्रेलिया की नाओमी डी ब्रुईन को 11-0 से हराया। वहीं, पहलवान दीपक नेहरा ने फ्रीस्टाइल 97 किलो वर्ग में पाकिस्तान के तैयब राजा को 10-2 से हराकर कांस्य जीता।

लक्ष्य सेन, सिंधू और श्रीकांत सेमीफाइनल में
स्टार शटलर लक्ष्य सेन, पीवी सिंधू और किदांबी श्रीकांत ने अपने-अपने मैच जीतकर शनिवार को राष्ट्रमंडल खेलों की बैडमिंटन स्पर्धा के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। पुरुष युगल में सात्विकसाईराज रेंकिरेड्डी और चिराग शेटी तथा महिला युगल में गायत्री गोपीचंद और त्रिशा जॉली ने भी अंतिम चार में जगह बना ली है। क्वार्टर फाइनल में लक्ष्य सेन ने मॉरिशस के जूलियन जॉर्ज पॉल, श्रीकांत ने इंग्लैंड के टॉबी पेंटी और सिंधू ने मलयेशिया की जिन वेई गोह को हराया। सेमीफाइनल मुकाबले रविवार को खेले जाएंगे।

मेन्स डबल्स में सात्विकसाईराज और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया की शुएलर जैकब और टैंग नाथन की जोड़ी को लगातार गेमों में 21-9, 21-11 से हरा दिया। वहीं, महिला डबल्स में त्रिशा जॉली और गायत्री गोपीचंद की जोड़ी ने जमैका की ताहिला रिचर्ड्सन और विंटर की जोड़ी को 21-8, 21-6 से हरा दिया। दोनों कैटेगरी में भी भारतीय जोड़ी सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है।

टेबल टेनिस में शरत ने किए दो और पदक पक्के
भारत के स्टार टेबल टेनिस खिलाड़ी 40 साल के अचंता शरत कमल ने राष्ट्रमंडल खेलों में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए शनिवार को पुरुष और मिश्रित युगल फाइनल में जगह बनाकर दो और पदक पक्के कर लिए। शरत और जी साथियान ने ऑस्ट्रेलिया के निकोलस लुम और एम जी को 11-9, 11-8, 9-11, 12-14, 11-7 से हराया।

अब उनका सामना फाइनल में इंग्लैंड के पॉल ड्रिंकहाल और लियाम पिचफोर्ड से होगा। शरत और श्रीजा अकुला ने मिश्रित युगल में निकोलस लुम और लू फिन को 11-9, 11-8, 9-11, 12-14, 11-7 से मात दी। महिला एकल में श्रीजा सिंगापुर की तियांवेइ फेंग से 6-11, 11-8, 11-6, 9-11, 8-11, 11-8, 10-12 से हार गई।

पैरा टेबल टेनिस में सोनलबेन पटेल ने जीता कांस्य
भारतीय पैरा टेबल टेनिस खिलाड़ी सोनलबेन मनुभाई पटेल ने महिला एकल 3-5 स्पर्धा में इंग्लैंड की सुई बैली को 11-5, 11-2, 11-3 से हराकर कांस्य पदक जीत लिया। राज अरविंदन अलगर को नाइजीरिया के इसायू ओगनकुनल से 0-3 से हार मिली।

पैरा टेबल टेनिस में भाविना ने जीता स्वर्ण
पैरा टेबल टेनिस में भाविना हसमुखभाई पटेल ने स्वर्ण जीत लिया है। उन्होंने फाइनल में नाइजीरिया की इफेचुकवुदे क्रिस्टियाना को लगातार तीन गेमों में 12-10, 11-2, 11-9 से हरा दिया। भाविना इस पूरे टूर्नामेंट में अजेय रहीं। पहला मैच भाविना ने ऑस्ट्रेलिया की डेनियेला डी टोरो को 3-1 से हराया था। वहीं, दूसरे मैच में भाविना ने नाइजीरिया की ही क्रिस्टियाना पर 3-0 की जीत हासिल की थी। तीसरे मैच में भाविना ने फिजी की अकानिसी लाटू के खिलाफ 3-0 से जीत हासिल की थी।

टेबल टेनिस में मनिका और दिया की हार
टेबल टेनिस में महिला युगल के क्वार्टर फाइनल मैच में मनिका बत्रा और दिया पराग की जोड़ी को हार का सामना करना पड़ा है। वेल्स की कैरी और हर्सी की जोड़ी ने उन्हें 1-3 से हराया। इसके साथ ही मनिका बत्रा राष्ट्रमंडल खेल 2022 से बाहर हो चुकी हैं। उन्हें महिला एकल, मिश्रित युगल और अब महिला युगल में हार का सामना करना पड़ा है। 2018 कॉमनवेल्थ में महिला एकल में स्वर्ण जीतने वाली मनिका इस बार कोई पदक नहीं जीत पाई हैं। सेमीफाइनल में भाविना ने इंग्लैंड की सुए बेली को 3-0 से हराया था।

मुक्केबाज अमित, निकहत और नीतू फाइनल में
भारतीय मुक्केबाज अमित पंघाल (51 किलो भारवर्ग), नीतू (48 किलो भारवर्ग) और निकहत जरीन (50 किलो भारवर्ग) फाइनल में पहुंच गए हैं और रविवार को गोल्डन पंच जड़ना चाहेंगे। अमित पंघाल ने लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंचे हैं। उन्होंने गोल्ड कोस्ट (2018) में रजत पदक जीता था।

फाइनल में नीतू (48 भारवर्ग) का सामना इंग्लैंड की डेमी जेड और अमित (51 भारवर्ग) का इंग्लैंड के ही कियारन मैक्डॉनाल्ड से होगा। वहीं, निकहत (50 भारवर्ग) फाइनल में उत्तरी आयरलैंड की कार्ली मैक नॉल से भिड़ेंगी।

सागर अहलावत
भारतीय बॉक्सर सागर अहलावत सुपरहेवीवेट कैटेगरी में 92 किलो भारवर्ग के फाइनल में पहुंच गए हैं। उन्होंने सेमीफाइनल में नाइजीरिया के इफआन्यी ओनिएकवेयर को 5-0 से हरा दिया। इस तरह सागर ने भारत के लिए कम से कम एक रजत पदक पक्का कर लिया है।

60 किलो भारवर्ग के सेमीफाइनल जैस्मिन लंबोरिया इंग्लैंड की गेमा पैगे रिचर्ड्सन से 2-3 से हार गईं। इसके साथ ही जैस्मिन को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ेगा।

रोहित टोकस
67 किलो भारवर्ग में बॉक्सर रोहित टोकस को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा था। उन्हें सेमीफाइनल में जाम्बिया के जिम्बा ने 3-2 से हराया था। यानी तीन रेफरी का फैसला जाम्बिया के बॉक्सर के फेवर में गया।

बॉक्सिंग में पुरुषों के 57 किग्रा (फेदरवेट) वर्ग के सेमीफाइनल में भारत के मोहम्मद हुसामुद्दीन हार गए हैं। घाना के जोसेफ कॉमी ने उन्हें 4-1 से हराया। हुसामुद्दीन को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

लॉन बॉल में दूसरा पदक
भारत की पुरुष चौकड़ी ने लॉन बॉल में रजत दिलाया। यह इस स्पर्धा में भारत का दूसरा पदक है। महिला-4 वर्ग में महिला टीम ने स्वर्ण जीतकर इतिहास रचा था। पुरुष टीम को फाइनल में उत्तरी आयरलैंड से 5-18 से हार गई। भारतीय टीम में सुनील बहादुर (लीड), नवनीत सिंह (सेकंड), चंदन कुमार सिंह (थर्ड ) और दिनेश कुमार (स्कीप) शामिल थे।

प्रियंका और साबले ने रचा इतिहास
ट्रैक एंड फील्ड में दो पदकों के साथ चांदी की चमक दिखाई दी। अविनाश साबले ने 3000 मीटर स्टीपलचेज और उत्तर प्रदेश के मेरठ की प्रियंका ने दस हजार मीटर की पैदल चाल में दूसरा स्थान हासिल कर दिया। प्रियंका अपनी स्पर्धा में पदक जीतने वालीं देश की पहली महिला हैं जबकि साबले दोनों वर्गों में यह उपलब्धि हासिल करने वाले पहले एथलीट हैं। साबले ने 8:11.20 सेकंड के अपने प्रदर्शन के साथ 8:12.48 का अपना राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी सुधारा।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.