Samachar Jagat

चंडीगढ़ : पंजाब विधानसभा का 22 सितंबर को विशेष सत्र बुलाया गया है जिसमें आम आदमी पार्टी (आप) सरकार विश्वास प्रस्ताव लेकर आयेगी जर्मनी से लौटने के बाद मुख्यमंत्री भगवंत मान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल से मिले और पंजाब की राजनीति तथा आपरेशन लोटस के तहत विधायकों की खरीद-फरोख्त कर आप सरकार को गिराने की साजिश तथा जर्मन मेले में पंजाब में निवेश को लेकर चर्चा हुई।

आप ने आरोप लगाते हुए कहा कि दिल्ली में भी आपरेशन लोटस जैसी साजिश हुई थी और केजरीवाल सरकार ने विश्वास प्रस्ताव लाकर लोगों को संदेश दिया था कि लोगों के चुने हुये विधायक एकजुट हैं तथा किसी लालच में नहीं आने वाले।ऐसा ही फैसला पंजाब को लेकर किया गया। मान ने कहा,'' आपरेशन लोटस के तहत मेरे विधायकों को पैसा का लालच देकर खरीदने की कोशिश की गई लेकिन आप का हर विधायक पंजाब के प्रति वफादार है। भाजपा पर सत्ता का नशा सवार है।

उसे समझ लेना चाहिये कि आप विधायक अपनी धरती तथा पंजाब के प्रति ईमानदार हैं। उनके विधायकों को लालच देकर तोड़ने की कोशिश की गई। चुनाव से पहले भी विरोधी पार्टी ने लालच देकर लोगों को खरीदने की कोशिश की थी लेकिन लोगों ने हम पर भरोसा जताया और भरोसे की कोई कीमत नहीं होती। उन्होंने कहा कि आप ने लोगों के भरोसे को दिखाने के लिये सदन में विश्वास प्रस्ताव लाने का फैसला किया है। आप विधायक रंगला पंजाब के सपने को साकार करने के प्रति वचनबद्ध हैं।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.