Samachar Jagat

भारतीय फुटबॉल संघ ने फीफा अंडर -17 महिला विश्व कप फुटबॉल के लिए भारतीय टीम की घोषणा कर दी। भारतीय टीम में झारखण्ड की अस्टम उरांव, नीतू लिडा, अंजली मुंडा, अनिता कुमारी, पूर्णिमा कुमारी एवं सुधा अंकिता तिर्की को शामिल किया गया है। अस्टम उरांव और सुधा अंकिता तिर्की गुमला से हैं जबकि नीतू लिडा, अनिता कुमारी एवं अंजली मुंडा रांची से हैं और पूर्णिमा कुमारी सिमडेगा से हैं। पहली बार फीफा 17 विश्व कप फुटबॉल प्रतियोगिता में भारतीय टीम का बतौर कैप्टन नेतृत्व झारखण्ड की खिलाड़ी अस्टम उरांव करेंगी।

वर्ष 2020 में लॉकडॉन के दौरान जब पूरा देश बंद था। उस दौरान 2021 में होने वाले फीफा अंडर-17 के लिए भारतीय टीम में चयनित झारखण्ड की खिलाड़यिों को गोवा से वापस झारखण्ड लौटना पड़ा था। अधिकतर खिलाडियों की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण तैयारी और खानपान में असर पड़ रहा था। मामला मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के संज्ञान में आने के बाद उन्होंने सबसे पहले फीफा प्रतियोगिता के लिए चयनित राज्य की खिलाडियों की ट्रेनिग की व्यवस्था का निर्देश खेल विभाग को दिया। जिसके बाद सभी खिलाड़यिों को रांची लाकर मेडिकल सुविधा दिला कर राजकीय अतिथि शाला में रखा गया। राष्ट्रीय टीम के मेन्यू के

अनुरूप उनके लिए खाने की व्यवस्था और कैंप के लिए मोरहाबादी फुटबॉल स्टेडियम ग्राउंड एवं दो कोच की व्यवस्था की गई। इसके बाद फèीफèा वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम के विश्वस्तरीय प्रशिक्षण की सुविधा जमशेदपुर में मुख्यमंत्री के निर्देश पर सुनिश्चित की गई। जहां 10 माह तक भारतीय टीम ने वर्ल्ड कप के लिए प्रशिक्षण प्राप्त किया था। टीम के लिए रहने की व्यवस्था, ग्राउन्ड, स्विमिग पूल, जिम सहित यात्रा के लिए बस की सुविधा पूरे 1० माह के लिए सुनिश्चित की गई थी।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.