नृत्य महोत्सव में गेड़ी, भंवरा, बिल्लस और पिट्टूल का जलवा भी

रायपुर, 2 नवंबर 2022/राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव परिसर में युवा पारंपरिक खेल गेड़ी, बिल्लस, भंवरा, पिट्टूल खेलते भी दिखे। वे इस खेल को बड़े उत्साह से खेलते हुए रोमांचित हो रहे थे। अन्य प्रदेश से आए लोक कलाकार व महोत्सव देखने आए लोग भी बड़े रुचि से इन खेलों का खेलने का प्रयास किए।

साइंस कॉलेज के बीएससी द्वितीय वर्ष में अध्ययनरत अमित देवांगन, राखी, संजना और राजेश ने भी गेड़ी में संतुलन बनाते हुए चलने का प्रयास किया। वही अन्य युवाओं ने भी भंवरा, बिल्लस और पिट्टूल पर अपना हाथ अजमाया। महोत्सव परिसर में खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा छत्तीसगढ़िया ओलंपिक परिसर में पारंपरिक खेलों की जानकारी एवं खेलने के लिए सुविधा प्रदान कर रही है।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार ने इस वर्ष पूरे राज्य में छत्तीसगढ़िया ओलंपिक का आयोजन किया है। इस आयोजन से छत्तीसगढ़ के पारंपरिक खेलों को पुनर्जीवित करने का प्रयास किया जा रहा है। अन्य राज्यों से आए कलाकारों और महोत्सव देखने आए लोगों ने राज्य सरकार द्वारा आयोजित किए जा रहे छत्तीसगढ़िया ओलंपिक की सराहना की। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के पारंपरिक खेलों को बढ़ावा मिलेगा और आने वाली पीढ़ी भी इन पारंपरिक खेलों खेलों के प्रति रुचि लेगी।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.