हुंकार रैली के पहले भाजपा अपने शराब प्रेमी नेताओ की हेकड़ी निकाले

शराबबंदी के लिए नौटंकी करने वाली भाजपा शराब प्रेमी नेताओ पर जबाब दे -कांग्रेस

रायपुर 6 नवम्बर 2022/ शराब बंदी पर राजनैतिक बयानबाजी कर नौटंकी करने वाली भाजपा हकीकत में शराब की पैरोकार है।महतारी हुंकार रैली के पहले भाजपा अपने शराब खोर नेताओ की हेकड़ी निकालने का साहस दिखाए।कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि इधर भाजपा महिला मोर्चा हुंकार रैली के नाम से राजनीतिक नोटंकी करने जा रही है उधर भाजपा के नेता शराब पी कर सड़क में हुड़दंग कर रहे है ।भाजपा का यही चरित्र भी कहते कुछ और है और करते कुछ है।भाजपा महिला मोर्चा पहले अपने दल के भीतर शराबबंदी पर एक राय हो जाये फिर हुंकार भरे। पिछले दिनों भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के पुत्र जो खुद भी भाजपा के नेता है कोरबा में शराब पी कर सरेआम हंगामा मचा रहे थे बस स्टैंड में दंगा मचा रहे थे ।कांकेर में भी एक प्रभावशाली भाजपा नेता शराब पी कर हंगामा मचाने का कारनामा कर चुके है ।इसके पहले प्रदेश भाजपा का एक पदाधिकारी महाराष्ट्र बार्डर पर शराब की तस्करी करते पकड़ाया था ।मुंगेली बालोद बलौदाबाजार में भी आधा दर्जन से अधिक भाजपा नेता शराब की तस्करी के आरोप में पकड़ाए थे ।

कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद ने कहा कि भाजपा शराब बंदी के मामले में सिर्फ राजनीति करती है ।आज तक उसने शराब बंदी के लिये बनी विधायको की कमेटी में अपने प्रतिनिधि का नाम नही दिया ।छत्तीसगढ़ में शराब का सरकारीकरण भाजपा ने किया राज्य में शराब से मिलने वाला राजस्व 300 करोड़ से 5000 करोड़ रमन सरकार में बढ़ा ।रमन सरकार ने शराब की खपत बढ़ाने का 15 साल तक हर सम्भव प्रयास किया था ।जिसके कारण छग शराब की  खपत के प्रतिव्यक्ति में देश मे सर्वोच्च के दुर्भाग्यपूर्ण स्थान पर पहुच गया था ।आज जब भाजपा शराब पर हुंकार रैली करने का ड्रामा करती है तो प्रदेश की जनता के सामने  भाजपा का  अवसरवादी चरित्र बेनकाब होता है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.