ससुराल सिमर का फेम और बिग बॉस की पूर्व प्रतियोगी वैशाली ठक्कर आत्महत्या कांड की जांच ठंडे बस्ते में पड़ चुकी है. इस मामले की सह-आरोपी और वैशाली के पूर्व बॉयफ्रेंड की राहुल नवलानी की पत्नी दिशा नवलानी घटना के बाद से अब तक, मामले की जांच एजेंसी यानी इंदौर पुलिस की गिरफ्त से दूर है. इस बीच अब तक हुई जांच पड़ताल में पता चला है कि वैशाली ठक्कर अक्सर राहुल नवलानी और अपने बिगड़ते रिश्तों को लेकर परिवार वालों से बात किया करती थी. विशेषकर वो राहुल और अपने बीच चल रहे मनमुटाव के दौरान हर बात, मां को जरूर बताती थी. सुसाइड से कुछ दिन पहले ही वैशाली ने मां से कहा था कि, उसका पूर्व बॉयफ्रेंड राहुल नवलानी, फिल्म ‘डर’ के शाहरुख खान से भी खतरना है.

आइए जानते हैं कि अब तक आखिर इंदौर पुलिस क्यों नहीं गिरफ्तार कर सकी है, वैशाली आत्महत्या कांड में, ‘विलेन’ की भूमिका में सामने निकल कर आ चुकी मुख्य आरोपी राहुल नवलानी की पत्नी दिशा नवलानी को और कहां आकर अटक गई है, वैशाली ठक्कर आत्महत्या कांड की पड़ताल?इंदौर पुलिस के ही उच्च पदस्थ सूत्रों की मानें तो बीते करीब 15-20 दिन से इस मामले की पड़ताल में कोई विशेष या फिर काम की जानकारी हाथ नहीं लगी है. खासकर तब से जबसे गिरफ्तार राहुल नवलानी को रिमांड खत्म होने के बाद जेल भेजा गया. हालांकि, अगर मध्य प्रदेश पुलिस मुख्यालय के ही अंदरूनी और विश्वस्त सूत्रों की मानें तो, अब तक इस मामले की जांच को आगे बढ़ाने के लिए, फॉरेंसिक जांच के लिए भेजी गई वस्तुओं की रिपोर्ट्स का ही इंतजार है.

आरोपी की पत्नी अभी तक फरार
जब तक विधि विज्ञान प्रयोगशाला से तमाम लंबित रिपोर्ट्स पुलिस को नहीं मिलेंगीं. तब तक जांच को आगे बढ़ा पाना मुश्किल होगा. उधर, इस मामले में इंदौर पर हाथ-पर-हाथ धरे बैठी है. इसकी तस्दीक इससे ही होती है कि, घटना के इतने दिन बाद भी पुलिस वांछित सह-आरोपी महिला और मुख्य आरोपी राहुल की, फरार चल रही पत्नी दिशा नवलानी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है. ऐसे में पीड़ित परिवार ने ही पुलिसिया पड़ताल पर सवाल खड़े करने शुरु कर दिए हैं. यह कहते हुए कि दिशा नवलानी एक आम-घरेलू महिला है. वो कोई प्रोफेशनल अपराधी नहीं है. न ही बड़ी गैंगस्टर या फिर कुख्यात ट्रेंड कोई आतंकवादी ही है. जो वो एक प्रोफेशनल अपराधी-टेररिस्ट की तरह अब तक इंदौर पुलिस के हत्थे ही नहीं चढ़ी है. फरार महिला आरोपी आम- नौसिखिए अपराधियों की ही तरह है. फिर उस तक इंदौर पुलिस के हाथ आखिर क्यों नहीं पहुंच पा रहे हैं?

ठक्कर केस में पुलिस की तफ्तीश सुस्त
पीड़ित परिवार (सुसाइड कर चुकी टीवी एक्ट्रेस वैशाली ठक्कर के परिजन) घटना के बाद, मामले की तह तक पहुंचने के लिए सिर से एड़ी तक का जोर लगाता रहा था. रोज-रोज थाने-चौकी भी आता-जाता रहा. उसके बाद पुलिस की कछुआ चाल पड़ताल से हार-थककर अब वैशाली का परिवार भी मन-मसोसकर घर बैठ गया है. क्योंकि जब-जब पीड़ित परिवार इंदौर पुलिस के पास जांच की प्रगति के बारे में पूछता था, तब-तब उसे एक ही रटा-रटाया जवाब मिलता था कि, ‘कुछ जांच लैब से आनी बाकी हैं. उसके बाद ही केस की तफ्तीश को आगे बढ़ाया जा सकेगा.’ इस बारे में अपनी पहचान उजागर न करने की शर्त पर वैशाली ठक्कर के ही एक परिजन ने टीवी9 भारतवर्ष से कहा, “शुरु में तो पुलिस काफी एक्टिव दिखी थी. उसके बाद जबसे गिरफ्त में आए राहुल नवलानी ने मुंह खोलना बंद किया. तभी से पुलिस की भी तफ्तीश सुस्त हो गई.”

दूसरी ओर इंदौर पुलिस के ही दो उच्च पदस्थ सूत्रों की बात अगर मानें तो, “फरार चल रही मुख्य आरोपी की पत्नी दिशा नवलानी के बारे में पता लगाने के लिए मुखबिरों का जाल बिछा रखा है. हर संभावित ठिकाने की पुलिस को भी इस बारे में सूचित किया जा चुका है कि अगर दिशा नवलानी से संबंधित कोई जानकारी मिले तो तुरंत, इंदौर पुलिस से संपर्क करे. उम्मीद है कि जो बातें गिरफ्तार करके जेल भेजा जा चुका वैशाली ठक्कर का पूर्व बॉयफ्रेंड और मामले का मुख्य आरोप राहुल नवलानी छिपा रहा है. उनमें से तमाम के जवाब शायद उसकी वांछित पत्नी और मामले की सह-आरोपी दिशा नवलानी उगल दे.” जब दिशा नवलानी अभी तक गिरफ्तार ही नहीं हो सकी है. तो ऐसे में पड़ताल क्या आगे नहीं बढ़ेगी? सवाल के जवाब में इंदौर पुलिस में सहायक पुलिस आयुक्त स्तर के एक अधिकारी ने कहा, “नहीं ऐसा नहीं है. जहां तक और जो जांच अब तक होनी थी. वही पूरी हो चुकी है. आगे की जांच के लिए अब दिशा की गिरफ्तारी और लैब से रिपोर्ट्स का मिलना बाकी है.’

उधर, मीडिया में आ चुकी खबरों की मानें तो वैशाली ठक्कर संबंध बिगड़ते ही भांप चुकी थी कि, आइंदा उसकी जिंदगी में जहर घोलने के लिए राहुल नवलानी और उसकी पत्नी दिशा नवलानी, एक से बढ़कर एक घातक साबित होंगे. क्योंकि, वो राहुल और उसकी पत्नी दिशा को करीब से जानती थी. उनकी रग-रग से वो वाकिफ हो चुकी थी. शायद राहुल और वैशाली के बीच में दिशा नवलानी न आई होती तो, आज इस बर्बादी की कहानी का सच कुछ और ही होता. संभव था कि आज राहुल नवलानी का परिवार बिखर चुका होता…और वैशाली-राहुल एक होते! इस तरह की बातें भी इंदौर पुलिस सूत्रों से ही निकल कर मीडिया तक पहुंच रही हैं. वैशाली और राहुल के संबंधों में दिशा नवलानी ही सबसे बड़ी रोड़ा थी. दिशा नहीं चाहती थी कि उसकी शादी-शुदा जिंदगी में वैशाली ठक्कर एंट्री मारे. जबकि, हालात तकरीबन उसके एकदम विपरीत होते जा रहे थे जो, किसी भी नजरिए से राहुल-दिशा की जिंदगी में जहर घोलने के लिए काफी थे.

राहुल को बताया था ‘डर’ का शाहरुख खान
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सुसाइड से कुछ समय पहले ही वैशाली ठक्कर ने, बॉयफ्रेंड राहुल नवलानी और उसकी पत्नी दिशा नवलानी की संदिग्ध भूमिका को लेकर कई बातें की थी. उसी दौरान वैशाली ने मां को बताया था कि, उसका बॉयफ्रेंड देखने में जितना भोला और खूबसूरत लगता है. दरअसल, दिल-दिमाग और सोच से वह उतना ही खतरनाक और गंदा है. इसकी पुष्टि में वैशाली ने मां को मुंबईया फिल्म ‘डर’ में शाहरुख खान के किरदार का हवाला दिया था. वैशाली, मां को समझाना चाह रही थी कि, फिल्म डर में जो किरदार शाहरुख खान ने निभाया था. उसके साथ (वैशाली ठक्कर के साथ) या वैशाली की जिंदगी में ठीक उसी भूमिका में उसका बॉयफ्रेंड राहुल नवलानी भी जुटा है. जो वैशाली की जिंदगी के लिए कभी भी नासूर साबित हो सकता है. इन तमाम तथ्यों की पुष्टि वैशाली द्वारा सुसाइड कर लिए जाने के बाद उनकी मां ने भी मीडिया से बयान की थी.

यहां बताना जरूरी है कि वैशाली ठक्कर की लाश 16 अक्टूबर 2022 को, उसके इंदौर स्थित मकान में संदिग्ध हालातों में लटकी मिली थी. बाद में मौके से हासिल सुसाइड नोट से वो मामला सुसाइड का निकला. वैशाली ने लंबे चौड़े सुसाइड नोट में घटना के लिए पूर्व बॉयफ्रेंड और पड़ोसी राहुल नवलानी और उसकी पत्नी दिशा नवलानी को जिम्मेदार ठहराया था. बाद में इंदौर पुलिस ने राहुल को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया. जबकि उसकी पत्नी और मामले की सह-आरोपी दिशा नवलानी अभी तक फरार चल रही है. इस मामले की तफ्तीश अभी तक कहां पहुंची है? दिशा नवलानी कहां है? इन दोनों सवालों के जवाब फिलहाल उस इंदौर पुलिस के ही पास नहीं है, जिसे इस सनसनीखेज कांड की पड़ताल सौंपी गई है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.