कोरिया:पोंडी, जिल्दा और बैमा धान खरीदी केंद्रों का औचक निरीक्षण

कोरिया 17 नवम्बर 2022/ जिले में धान ख़रीदी का औचक निरीक्षण करने कलेक्टर श्री विनय कुमार लंगेह आज एसपी श्री त्रिलोक बंसल के साथ पोड़ी बचरा, जिल्दा तथा बैमा उपार्जन केंद्र पहुंचे। पोड़ी बचरा में किसान श्याम लाल साहू के धान को स्वयं अपने सामने तौलकर कलेक्टर श्री लंगेह ने माप की जांच की, इसके साथ ही उन्होंने रैंडम बोरियों का भी तौल कराया।

इस दौरान उन्होंने आर्द्रता मापी यंत्र से नमी की जांच, पंजी संधारण, बारदानों की व्यवस्था, ऑनलाइन एंट्री, मानव संसाधन, तकनीकी उपकरणों की जांच करते हुए उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री लंगेह ने समिति प्रबंधकों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसानों से एकमुश्त धान खरीदी के पश्चात उनकी सहमति से शेष धान के रकबा समर्पण की कार्यवाही करें। इस दौरान उन्होंने कहा कि सभी उपार्जन केन्द्रों में गोधन न्याय योजना के प्रचार-प्रसार हेतु दीवार लेखन कराएं।

उन्होंने कहा कि उपार्जन केंद्रों में प्रति दिवस टोकन लिमिट के अनुसार ही खरीदी सुनिश्चित करें, समिति प्रबंधक इसपर विशेष ध्यान रखें। निरीक्षण के दौरान श्री लंगेह ने उपार्जन केन्द्र में धान के व्यवस्थित रखरखाव हेतु निर्धारित स्टैण्डर्ड पर स्टेकिंग करने और बारदानों पर स्टेंसिल ज़रूर लगाने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने धान विक्रय के लिए आए किसानों से भी चर्चा कर वहां उपलब्ध सुविधाओं के संबंध में जानकारी ली। पोड़ी बचरा खरीदी केन्द्र में धान विक्रय करने आए किसान दिनेश कुमार ने कलेक्टर को बताया कि उनके पास कुल 0.68 हेक्टेयर रकबा है, 24.80 क्विंटल धान लेकर आए हैं।

एकमुश्त बेच रहे हैं। इसी प्रकार जिल्दा उपार्जन केंद्र में 80 क्विंटल धान लेकर आए कन्हारबहरा के किसान रामप्रसाद ने बताया कि खरीदी केंद्र में सभी व्यवस्थाएं अच्छी हैं। कलेक्टर ने किसानों को रकबा समर्पण की जानकारी दी और समिति प्रबंधकों को भी रकबा समर्पण शुरू कराने के निर्देश दिए।

गत दिवस बुधवार को कलेक्टर श्री लंगेह ने धान खरीदी से जुड़े विभागों, उपार्जन केंद्रों के लिए नियुक्त नोडल अधिकारियों और समिति प्रबंधकों के साथ बैठक कर धान खरीदी की समीक्षा की। उन्होंने जिले में धान खरीदी पर चर्चा करते हुए खरीदी के साथ ही उठाव भी शुरू कराने के निर्देश दिए।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.