राशनकार्डधारियों को पीडीएस दुकानों से मिल रहा है राशन: मंत्री अमरजीत भगत

रायपुर, 18 नवम्बर 2022 : खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री अमरजीत भगत ने आज यहां अपने निवास कार्यालय सरगुजा कुटीर में मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए कहा कि राज्य में बिना किसी व्यवधान के समस्त राशनकार्डधारियों को उनकी पात्रता के अनुसार उचित मूल्य दुकानों से राशन का वितरण किया जा रहा है।

राशन वितरण की व्यवस्था पर सतत निगरानी रखी जा रही है। सभी राशन दुकानों का स्टाक मिलान कर इसकी जानकारी शीघ्र उपलब्ध कराने के निर्देश भी जिला स्तरीय अधिकारियों को देने के निर्देश दिए गए हैं।

खाद्य मंत्री श्री भगत ने बताया माह नवम्बर में भी राशन कार्डधारियों को निर्बाध रूप से राशन वितरण जारी है। पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत भी माह अक्टूबर और नवम्बर का चावल हितग्राहियों को वितरित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि हालांकि उनके संज्ञान में माह नवम्बर में राशन वितरण संबंधी कुछ शिकायतें मिली थी, जिसका निराकरण कर लिया गया है।

मंत्री श्री भगत कहा कि पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत राशन आबंटन एवं वितरण संबंधी स्टाक मिलान की जानकारी 14 नवम्बर तक मांगी गई है। उन्होंने कहा कि नवम्बर माह में अन्त्योदय तथा प्राथमिकता वाले राशनकार्ड धारियों को निःशुल्क चावल दिया जा रहा है। इसके संबंध में व्यापक प्रचार के भी निर्देश दिए गए हैं।

मंत्री श्री भगत ने बताया कि आज की स्थिति में प्रदेश में 13,415 उचित मूल्य दुकानें संचालित है। जिला खाद्य कार्यालय द्वारा 9,612 उचित मूल्य दुकानों का माह सितंबर 2022 हेतु अंतिम स्टॉक की डेटा एन्ट्री की गई है तथा कुछ जिलों द्वारा इस कार्यवाही हेतु अतिरिक्त समय चाहा गया है।

माह सितंबर 2022 के सभी उचित मूल्य दुकानों के अंतिम स्टॉक की जानकारी दर्ज न होने के परिणामस्वरूप माह नवंबर 2022 के लिए सभी उचित मूल्य दुकानों में भण्डारित की जाने वाली राशन सामग्री की अंतिम डिलीवरी मात्रा का निर्धारण नहीं हो सका है।

यह कार्यवाही नियत समय-सीमा में पूर्ण करने के लिए समस्त जिलों को पृथक से निर्देश जारी किए जा रहे हैं। किन्तु वर्तमान माह में प्रदेश के समस्त हितग्राही परिवारों को पात्रतानुसार राशन सामग्री के वितरण में कोई समस्या न हो, इसके लिए नवंबर माह के खाद्यान्न के भण्डारण के निर्देश और अनुमति दी जा चुकी है।

शासकीय उचित मूल्य दुकानों में शेष स्टॉक मात्रा को दृष्टिगत रखते हुए आवश्यतानुसार आवंटन से कम मात्रा के खाद्यान्न भण्डारण किये जाने संबंधी प्रावधान खाद्य अधिकारी मॉड्यूल में उपलब्ध है। खाद्य अधिकारी दुकानों में बचत स्टॉक के आधार पर जरूरत के मुताबिक भण्डारण कराएंगे।

खाद्य मंत्री श्री भगत ने बताया कि प्रदेश के 63.24 लाख गरीब राशनकार्डधारी परिवार हैं, जिन्हें निःशुल्क चावल का प्रदाय किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत शासकीय उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से राशन कार्डधारियों को राशन वितरण का कार्य निरंतर जारी है।

प्रदेश में माह नवम्बर में राशन कार्डधारी अंत्योदय, प्राथमिकता वाले परिवारों तथा सामान्य परिवारों को राशन वितरण किया जा रहा है। पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत माह अक्टूबर और नवम्बर का चावल भी दिया जा रहा है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.