Samachar Jagat

नई  दिल्ली : तिहाड़ जेल में बंद आम आदमी पार्टी (आप) के नेता सत्येंद्र जैन के कुछ नए वीडियो बुधवार को सामने आए, जिनमें उन्हें अपनी कोठरी में फल और कच्ची सब्जियां खाते देखा जा सकता है। जैन ने कुछ दिन पहले ही शहर की एक अदालत में याचिका दायर कर अनुरोध किया था कि तिहाड़ जेल के अधिकारियों को उनकी धार्मिक आस्था के अनुसार फल, सूखे मेवे और खजूर जैसे खाद्य पदार्थ मुहैया कराने का निर्देश दिया जाए।

बहरहाल, हाल में सामने आए वीडियो 13 सितंबर और एक अक्टूबर के हैं।

दिल्ली की एक अदालत ने दिल्ली सरकार के मंत्री जैन की याचिका पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से मंगलवार को जवाब तलब किया था। याचिका सोमवार को दायर की गई थी। इसमें जेल प्राधिकारियों को मंत्री की तत्काल चिकित्सकीय जांच कराने का भी निर्देश देने का अनुरोध किया गया है। इसमें कहा गया है कि मंत्री जैन धर्म के नियमों का सख्ती से पालन करते हैं, लेकिन जेल में उन्हें पिछले 12 दिन से उनकी धार्मिक मान्यताओं के हिसाब से भोजन नहीं दिया जा रहा है। सूत्रों ने कहा, ”तिहाड़ जेल में जैन की कोठरी की सीसीटीवी फुटेज कारागार में उन्हें उचित भोजन नहीं दिए जाने के उनके दावों को नकारती है। वीडियो में दिख रहा है कि उन्हें फलों और सूखे मेवों समेत उनकी पसंद का भोजन दिया जा रहा है।’’

उन्होंने कहा कि जैन के वकीलों ने दावा किया है कि जेल में उनका वजन 28 किलोग्राम कम हो गया है, जबकि उनका आठ किलोग्राम वजन बढ़ा है।

याचिका में दावा किया गया है कि जैन पिछले करीब छह महीने से केवल फलों, सब्जियों और मेवों या खजूर का सेवन कर रहे हैं और यह सामग्री वे सभी कैदियों के लिए उपलब्ध राशन के अपने कोटे से खरीद रहे हैं। इसमें कहा गया, ”इस बीच वह जेल में बुरी तरह गिर गये, जिससे उन्हें रीढ़ की हड्डी में गंभीर चोट आई है। इसके लिए उनका एलएनजेपी अस्पताल में उपचार चल रहा है। उन्हें कोविड के बाद के लक्षण के रूप में फ़ेफड़ों में भी समस्या है।’’

इससे पहले, पिछले सप्ताह सामने आये जैन के कुछ वीडियो में कथित रूप से उन्हें जेल में मालिश कराते और आगंतुकों से मिलते हुए देखा जा सकता है, जिस पर विवाद खड़ा हो गया है। इस बीच, सूत्रों ने मंगलवार को दावा किया था कि जैन की मालिश करने वाला व्यक्ति एक नाबालिग से बलात्कार का आरोपी है। वीडियो को लेकर आलोचना का सामना कर रही आम आदमी पार्टी (आप) ने पूर्व में दावा किया था कि जैन जेल में फिजियोथेरेपी करवा रहे थे, जहां वह धन शोधन के आरोप में पिछले पांच महीने से न्यायिक हिरासत में हैं। 

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.