Samachar Jagat

दुबई : ईरान ने अपनी राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के एक प्रमुख पूर्व सदस्य को सरकार की आलोचना करने पर गिरफ्तार किया है जबकि अधिकारी राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शनों से जूझ रहे हैं। इन विरोध-प्रदर्शन की छाया राष्ट्रीय टीम पर भी पड़ रही है जो फीफा विश्व कप में वैश्विक दर्शकों के सामने प्रतिस्पर्धा कर रही है।

ईरान की समाचार एजेंसियों फार्स और तसनीम ने गुरुवार को बताया कि वोरिया गफौरी को 'राष्ट्रीय फ़ुटबॉल टीम का अपमान करने और सरकार के खिलाफ प्रचार करने के लिए गिरफ्तार किया गया। विश्व कप के लिए नहीं जाने का फैसला करने वाले गफौरी अपने करियर के दौरान ईरान के अधिकारियों की आलोचना करते रहे हैं। वह पुरुषों के फुटबॉल मैचों में महिला दर्शकों पर लंबे समय से लगे प्रतिबंध के साथ-साथ ईरान की टकराव वाली विदेश नीति पर आपत्ति जताते रहे हैं।

हाल ही में उन्होंने एक 22 वर्षीय महिला माहसा अमीनी के परिवार के प्रति सहानुभूति व्यक्त की जिसकी ईरान की नैतिकता पुलिस की हिरासत में मौत के बाद विरोध-प्रदर्शन तेज हुए। हाल के दिनों में उन्होंने ईरान के पश्चिमी कुर्द क्षेत्र में विरोध-प्रदर्शनों पर हिसक कार्रवाई को समाप्त करने का भी आह्वान किया। उनकी गिरफ्तारी की खबरें ईरान और वेल्स के बीच शुक्रवार को विश्व कप मैच से पहले आई। ईरान की राष्ट्रीय टीम के सदस्यों ने शुरुआती मैच में इंग्लैंड के खिलाफ 2-6 की हार से पहले अपने राष्ट्रगान को गाने से इनकार कर दिया था।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.