खैरागढ़ : स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल छुईखदान में बाल मेले का हुआ आयोजन

खैरागढ़ 26 नवम्बर 2022 : स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल छुईखदान परिसर में आज स्कूल प्रबंधन द्वारा बाल मेले का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्रीमती यशोदा नीलाम्बर वर्मा जी (विधायक विधानसभा खैरागढ़) व अध्यक्षता श्रीमती पार्तीका संजय महोबिया (अध्यक्ष नगर पंचायत छुईखदान) द्वारा किया गया.

कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में जिला खैरागढ़ छुईखदान गंडई के कलेक्टर डॉ जगदीश कुमार सोनकर,छुईखदान जनपद पंचायत अध्यक्ष श्रीमती नीना विनोद ताम्रकार,ललित महोबिया (उपाध्यक्ष जनपद पंचायत छुईखदान) गिरवर जंघेल (पूर्व विधायक) मोतीलाल जंघेल,राम कुमार पटेल,हेमंत वैष्णव व अन्य सम्मानीय ,जनप्रतिनिधि गणों के साथ साथ, शाला प्रबंधन की पूरी टीम, शिक्षक शिक्षिकाएं और कार्यक्रम के विशेष आकर्षण स्कूल के विद्यार्थी कार्यक्रम में उपस्थित थे.  

बाल मेला के रूप में आयोजित इस कार्यक्रम में बच्चो द्वारा करीब 50 स्टॉल लगाया गया था जिसमे बच्चे अपनी पाककला का प्रदर्शन करते हुए विभिन्न तरह के स्वादिष्ट व्यंजन उपलब्ध करा रहे थे, अतिथियों ने पूर्ण स्टॉल का निरीक्षण करते हुए बच्चों की इस कला का हौसला अफजाई किया व बच्चों के बनाए गए व्यंजनों का लुत्फ उठाया , और आने वाले उज्ज्वल भविष्य की कामना की.  

विधायक श्रीमती यशोदा नीलाम्बर वर्मा द्वारा अपने उद्बोधन में बच्चों को शिक्षा का महत्त्व बताते हुए इस पर प्रकाश डाला गया कि किसी भी विषम परिस्थिति में विद्या को आपसे कोई नहीं छीन सकता और आपकी भविष्य की बुलंदियों को छूने में इस का अपना विशेष महत्त्व है.

कार्यक्रम की अध्यक्ष श्रीमती पार्तिका संजय महोविया द्वारा बच्चों को उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना के साथ साथ स्वामी आत्मानंद स्कूल में नगर पंचायत छुईखदान द्वारा कराएँ गए विकास कार्यों की जानकारी दी गई और भविष्य में बच्चों के विकास के लिए और स्कूल प्रबंधन के लिए पूरा सहयोग करने की बात कही.  

कलेक्टर डॉ जगदीश सोनकर ने आज संविधान दिवस के उपलक्ष्य में मंच से सभी को संविधान की शपथ दिलाई और बच्चो को बाबा साहब के महत्ता के बारे में बताया, संविधान और उसका जीवन में तथा भविष्य में क्या योगदान है इसके बारे में विद्यार्थियों को विस्तार से बताकर, विद्यार्थियों की उज्ज्वल भविष्य की कामना के साथ कलेक्टर ने अपना उद्बोधन समाप्त किया.

कार्यक्रम का विशेष आकर्षण कलेक्टर डॉ जगदीश थे जो बच्चों के बीच में पूर्ण रूप से घुल मिल गए थे तथा विद्यार्थी अपने बीच जिले के कलेक्टर को पाकर फूले न समाते हुए उस क्षण को सेल्फी व् फोटो के साथ में समेटने में लगे हुए थे..इस अवसर पर विद्यार्थियों द्वारा नृत्य में प्रस्तुति कर गांधीजी के आदर्शों व कत्थक नृत्य की विलुप्त होती विद्या को उजागर करने का प्रयास किया गया

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.