कहते हैं कि इंसान खुद को लेकर चाहें कितनी ही प्लानिंग कर ले, लेकिन होता वही है जो मंजूर-ए-खुदा होता है. यामी गौतम के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ. यामी बचपन से IAS बनने का सपना देखती थीं, लेकिन किस्मत ने उन्हें एक्ट्रेस बना दिया. कहानी थोड़ी लंबी है. इसलिए वक्त निकालकर पढ़िएगा. हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर में जन्मीं यामी गौतम बचपन में काफी शर्मीली हुआ करती थीं. आम लोगों की तरह यामी के अंदर भी बचपन से IAS बनकर देश की सेवा करने का जुनून था. पर एक दिन कुछ ऐसा हुआ, जो उनकी जिंदगी ने यू टर्न ले लिया. हुआ ये कि एक दिन एक्ट्रेस के घर पर कुछ गेस्ट आए हुए थे. मतलब यामी के पापा के दोस्त. यामी के पापा के दोस्त की वाइफ टेलीविजन एक्ट्रेस थीं.

घर पर आई एक्ट्रेस की नजर यामी पर पड़ी और उन्होंने भाप लिया कि उनमें एक्ट्रेस बनने की क्वालिटी है. एक्ट्रेस ने यामी की मां को उन्हें थिएटर जॉइन कराने की सलाह दी. इसके बाद एक्ट्रेस ने यामी की कुछ फोटोज ली और मुंबई के कई प्रोडक्शन हाउस में भेज दी. हालांकि, इस दौरान यामी सिर्फ पढ़ाई पर ध्यान लगाना चाहती थीं. इसलिये उन्होंने इस चीज पर इतना गौर नहीं किया. एक्ट्रेस बनने से पहले यामी लॉ की पढ़ाई कर रही थीं. पर इसमें यामी का मन नहीं लगा और उन्होंने लॉ छोड़ने का प्लान बना लिया. पढ़ाई छोड़ने के बाद यामी ने मां से एक्टिंग में जाने की ख्वाहिश जताई और उनकी मां ने भी उन्हें पूरा सपोर्ट किया. इसके बाद यामी ने मॉडलिंग शुरू कर दी.

यामी गौतम की किस्मत बदल रही थी. छोटे पर्दे से यामी गौतम ने नई जिंदगी की शुरुआत की. ‘चांद के पार चलो’ यामी का पहला शो था. इसके बाद वो गौरव खन्ना के साथ ‘यह प्यार न होगा कम’ शो में नजर आईं. इस शो में यामी की सादगी को लोगों ने खूब पसंद किया और वो घर-घर पॉपुलर हो गईं. टेलीविजन पर अपनी पहचान बनाने के बाद यामी ने विक्की डोनर से बॉलीवुड डेब्यू किया. आज वो बॉलीवुड में कहां स्टैंड करती हैं, इससे दुनिया वाकिफ है. टीवी शो और फिल्मों के अलावा यामी ‘फेयर एंड लवली’ के ऐड के लिये भी जानी जाती हैं. ‘फेयर एंड लवली’ के ऐड ने भी यामी को खूब पॉपुलैरिटी दी.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.