Samachar Jagat

लुसैल : हेनरी मार्टिन और लुई शावेज के गोल की बदौलत भले ही मैक्सिको ने बुधवार रात को फीफा विश्व कप मैच में सऊदी अरब को 2-1 से हरा दिया हो लेकिन उसकी यह कोशिश उसे नॉकआउट दौर में पहुंचाने के लिये काफी नहीं रही।

ऐसा अर्जेंटीना की पोलैंड पर 2-0 की जीत के कारण हुआ जिससे नॉकआउट में पहुंचने का फैसला गोल अंतर से हुआ। मैक्सिको की टीम 1978 के बाद पहली बार अपने ग्रुप सी से अगले दौर में पहुंचने में विफल रही। मैक्सिको की टीम पिछले सात विश्व कप के राउंड 16 में पहुंची थी।

उसके लिये मार्टिन ने 48वें मिनट में पहला गोल किया और शावेज ने चार मिनट बाद फ्री किक पर दूसरा गोल किया। मैक्सिको ने अंतिम 20 मिनट में एक और गोल करने का भरसक प्रय; किया जिसमें उरीयल एंटुना का 87वें मिनट में किया गया प्रयास ऑफसाइड करार कर दिया गया। लेकिन टीम एक और गोल नहीं कर पायी।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.