मुख्यमंत्री की घोषणा: छुरा में बनेगा पिछड़ा वर्ग के लिए छात्रावास

रायपुर, 05 दिसम्बर 2022 : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज संध्या राजिम के सर्किट हाउस में विभिन्न समाज एवं सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि मण्डल से भेंट-मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर एक-एक कर सभी समाज एवं संगठनों के प्रतिनिधियों से सामाजिक गतिविधियों के संबंध में जानकारी लेने के साथ ही उनसे शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन के संबंध में भी फीडबैक लिया। मुख्यमंत्री ने छुरा में अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए छात्रावास बनाने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री को सतनामी समाज के प्रतिनिधियों ने फिंगेश्वर में आईटीआई को संत गुरू घासीदास बाबा के नाम पर करने के लिए आभार जताया। सतनामी समाज के प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने संत गुरू घासीदास जयंती के लिए अग्रिम शुभकामनाएं दी। इस मौके पर प्रतिनिधि मंडल ने गरियाबंद में आयोजित संत गुरू घासीदास बाबा के तीन दिवसीय मेले में शामिल होने का न्यौता दिया। डड़सेना कलार समाज ने ग्राम कोपरा को नगर पंचायत बनाने के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री को मराठा समाज के प्रतिनिधियों ने राजिम में 15 जनवरी को खंडवा उत्सव में शामिल होने आमंत्रित किया।

मुख्यमंत्री से चर्चा के दौरान यादव समाज ने राज्य में गौसेवा और गोधन योजना के लिए राज्य सरकार की सराहना की। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी नगरीय निकाय में कृष्ण कुंज बनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने धु्रव समाज के प्रतिनिधियों से मुलाकात के दौरान कहा कि आदिवासी समाज के उत्थान के लिए नया रायपुर में शहीद वीर नारायण सिंह की स्मृति में संग्रहालय का निर्माण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने देवांगन समाज के प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए रीपा में समाज के बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर देने की बात कही।

मुख्यमंत्री ने सेन समाज, पारधी समाज के प्रतिनिधियों को भवन की मांग पर समझाईश दी कि पहले जमीन की रजिस्ट्री करा लें उसके बाद भवन बनाने के लिए आर्थिक सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने अधिवक्ता संघ से चर्चा करते हुए राजिम में व्यवहार न्यायालय भवन निर्माण के लिए सहमति दी। मुस्लिम समाज द्वारा जाति प्रमाण पत्र नहीं बनने की समस्या पर समझाईश दी कि ग्राम सभा के प्रस्ताव पर जाति प्रमाण पत्र बनाया जा सकता है।

झरिया गाड़ा समाज द्वारा संस्कृति को बचाने के लिए गाड़ा बाजा को राज्य बाजा घोषित करने की मांग पर मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को प्रस्ताव तैयार करने कहा। मुख्यमंत्री ने निषाद समाज की मांग पर राम वन गमन पथ में भक्त गुहा निषाद राज की प्रतिमा स्थापित करने पर सहमति जताई।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने विभिन्न समाजों की मांग पर सामाजिक भवन और अन्य कार्यों के लिए लगभग 2 करोड़ 40 लाख रूपए की मंजूरी प्रदान की। उन्होंने ठेठवार यादव समाज के सामुदायिक भवन के लिए 25 लाख रूपए, धीवर समाज को राजिम में सामुदायिक भवन निर्माण के लिए 20 लाख रूपए, मराठा समाज को सामाजिक भवन के लिए 20 लाख रूपए, ब्राम्हण समाज के सामुदायिक भवन के लिए 20 लाख रूपए, दिल्लीवार कुर्मी क्षत्रीय समाज को राजिम में सामाजिक भवन के लिए 20 लाख रूपए,

छुरा में चन्द्राकर समाज के भवन के लिए 20 लाख रूपए, डड़सेना कलार समाज को फिंगेश्वर और कोपरा में सामुदायिक भवन निर्माण के लिए 20-20 लाख रूपए, गाड़ा समाज को सामुदायिक भवन के लिए 20 लाख रूपए, यादव समाज के भवन निर्माण के लिए 15 लाख रूपए, कायस्थ समाज को राजिम में भवन निर्माण के लिए 15 लाख रूपए, कहार समाज को सामुदायिक भवन के लिए 15 लाख रूपए, मुस्लिम समाज के भवन के लिए 10 लाख रूपए की घोषणा की।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.