सुशांत की मौत मिस्ट्री

एक महीने से ज्यादा का वक्त बीत चुका है, लेकिन मुंबई पुलिस अब तक सुशांत सिंह राजपूत की मौत के कारण का पता नहीं लगा सकी है। इस बीच दिल्ली के एक वकील ईशकरण भंडारी ने सुशांत की मौत के मामले में मुंबई पुलिस की जांच पर सवाल उटाए हैं और सीबीआई जांच की मांग की है। ईशकरण भंडारी ने कहा कि न्यायिक व्यवस्था पर लोगों का विश्वास बना रहे इसलिए इस मामले की जांच सीबीआई से होनी चाहिए। वहीं भंडारी ने मुबंई पुलिस की जांच की खामियों पर सवाल उठाए हैं।

 मुंबई पुलिस की जांच में कई खामियां: वकील

मुंबई पुलिस की जांच में कई खामियां: वकील

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड मामले की जांच कर रही मुबंई पुलिस की जांच को लेकर कई खामियों के बारे में ईशकरण भंडारी ने बात की। एचटी की रिपोर्ट के मुताबिक जस्टिस के लिए पीपल्स मूवमेंट का नेतृत्व कर रहे वकील ईशकरण सिंह भंडारी ने कहा कि सुशांत की मौत रहस्यमयी मौत माना जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सुशांत की मौत के कुछ ही मिनटों के बाद सुसाइट शब्द सामने आ गया। बिना जांच के इस निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सकते हैं कि यह एक ट्रेजेडी है, आत्महत्या है या फिर हत्या है। उन्होंने कहा कि कुछ ही मिनटों पर कैसे इस निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है कि यह खुदकुशी है? उन्होंने कहा कि मैं जितना इस केस की गहराई में गया, उतने ही मेरे अंदर सवाल उठते गए। भंडारी ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत ने कथित तौर पर अपने फोन के 50 सिम कार्ड बदले थे। उन्होंने कहा कि इस बारे में मैंने मुंबई पुलिस को लिखा भी कि इस अहम पहलुओं की जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अपने पत्र में मैंने लिखा कि यह सोर्स-बेस्ड है, नेम-बेस्ड नहीं कि सुशांत सिंह राजपूत ने 50 बार अपने सिम कार्ड बदले थे। उन्होंने कहा कि मैंने इस केस की जांच कर रही पुलिस टीम से पूछा भी कि क्या उन सभी सिम कार्ड्स को बंद कर दिया है?

 सुशांत ने बदले थे 50 सिम कार्ड!

सुशांत ने बदले थे 50 सिम कार्ड!

भंडारी ने कहा कि अगर सुशांत ने 50 सिम कार्ड बदले थे तो यह सामान्य नहीं है। यह असाधारण रूप से काफी बड़ी संख्या है। उन्होंने कहा कि पुलिस को इस पहलुओं की गहराई से जांच करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस को उन सभी सिम कार्ड और उससे जुड़े तथ्यों की जांच कर लेनी चाहिए, लेकिन अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया है, तो वह जांच पर अधिक से अधिक सवाल उठता है। उन्होंने कहा कि मैंने अपने पत्र के जरिए मुंबई पुलिस से यह भी पूछा कि क्या उन्होंने सुशांत के फ्लैट को सील कर दिया है? भंडारी ने कहा कि यह बहुत ही आश्चर्यजनक है और एक प्रक्रिया में भारी चूक है। ऐसा नहीं करने पर सबूतों से छेड़छाड़ की आशंका बहुत अधिक है।

उठ रहे हैं CBI जांच की मांग

उठ रहे हैं CBI जांच की मांग

वकील ईशकरण भंडारी ने मुंबई पुलिस की जांच की कई खामियों को गिनाया और सुशांत सिंह राजपूत के मौत की सीबीआई जांच की मांग की। ऐसे लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है, जो सुशांत की मौत की सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। सुशांत के मौत की CBI जांच की मांग करने वालों में रिया चक्रवर्ती, शेखर सुमन और सुब्रमण्यम स्वामी जैसे लोग शामिल हैं। हालांकि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने इन मांगों पर कहा था कि इस केस में कोई सीबीआई जांच की जरूरत नहीं है। मुंबई पुलिस इस केस को सुलझाने में पूरी तरह से सक्षम हैं। आपको बता दें कि 14 जून को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में पंखे से लटककर खुदकुसी कर ली थी। पुलिस को उनके कमरे में कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था। जिसके बाद से मुंबई पुलिस लगातार इस मामले में जांच कर रही है और फिल्म इडंस्ट्री से जुड़े लोगों से पूछताछ कर रही है।

[ad_2]

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.