लखनऊ। भगवान श्रीराम को काल्पनिक बताने वाले लोटन राम निषाद (Lotan Ram Nishad) को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने उनके पद से हटा दिया है। अब उनकी जगह राजपाल कश्यप को पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ की नई जिम्मेदारी सौंपी गई है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की सहमति के बाद ये निर्णय लिया गया है।

lotan ram nishad

भगवान श्रीराम पर टिप्पणी करने वाले लोटन राम निषाद पर समाजवादी ने चार दिन बाद बड़ी कार्रवाई की है। वह पार्टी पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष थे। अयोध्या में निषाद ने भगवान श्रीराम को काल्पनिक पात्र बताया था। नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष डॉ. राजपाल कश्यप ने कहा कि हम 15 दिन में नई प्रदेश कार्यकारिणी बनाएंगे।

Akhilesh Yadav

ज्ञात हो कि लोटन राम निषाद ने अयोध्या में भगवान श्रीराम को काल्पनिक चरित्र बताया था। उन्होंने कहा था कि जिस तरह फिल्मों में काल्पनिक चरित्र होता है। वैसे ही श्रीराम भी थे। उन्होंने कहा कि संविधान भी मान चुका है कि राम जैसा कोई नायक भारत में पैदा ही नहीं हुआ था।

रामनगरी अयोध्या में ही लोटन निषाद ने कहा, ”अयोध्या में राम मंदिर बने या कृष्ण मंदिर उससे मुझे कोई लेना देना नहीं है। मेरी आस्था उनमें है जिनकी वजह से मुझे सीधा लाभ मिला। बाबा साहब भीमराव आम्बेडकर, कर्पूरी ठाकुर, महात्मा ज्योतिबा फुले और छत्रपति साहू जी महराज ने पिछड़ा वर्ग को उनका अधिकार दिया। मेरी आस्था इन महापुरुषों में है।”

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.