नई दिल्ली। देश में कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के कारण करीब पांच महीने से बंद पड़ी मेट्रो सेवा (Metro) 7 सितंबर से एक बार फिर शुरू (Metro Start from 7 September) हो रही है। मेट्रो का परिचालन सीमित यात्रियों के साथ चलाया जाएगा। उसकी सफलता के बाद आगे धीरे-धीरे यात्रियों की संख्या बढ़ाई जाएगी। दिल्ली मेट्रो में सबसे बड़ी चुनौती स्टेशनों पर भीड़ नहीं बढ़ने देने का है। इसके लिए भी कई बदलाव किया गया है।

कुल 671 मेट्रो स्टेशन के प्रवेश निकास में से महज 38 फीसदी यानि 257 प्रवेश व निकास गेट खुलेंगे। अगर मेट्रो को लगा कि स्टेशन पर भीड़ है तो तुरंत प्रवेश को भी रोका जा सकता है। इसके लिए स्पेशल ड्यूटी पर कर्मी भी स्टेशन पर तैनात किए गए है।

ये होंगे 5 बड़े बदलाव

1- प्रवेश गेट पर सुरक्षा के साथ थर्मल स्क्रीनिंग होगी।

2- प्रवेश व निकास के लिए सभी गेट खुले हुए नहीं मिलेंगे।

3- यात्रा का समय बढ़ जाएगा, स्टेशन पर ज्यादा देर रुकेगी ट्रेन।

4- लिफ्ट में एक समय में तीन लोग ही प्रयोग कर पाएंगे।

5- एयरकंडीशन के तापमान 24 से 30 के बीच में रहेगा।

मेट्रो का सफर करते हुए रखना होगा ये ध्यान

1- हमेशा फेस मास्क लगाकर रखना अनिवार्य होगा।

2- दूसरे यात्रियों से 6 फीट की दूरी रखनी होगी।

3-अगर आप बीमार है तो आपको प्रवेश नहीं मिलेगा।

4- मेट्रो के अंदर दो यात्रियों के बीच एक सीट छोड़नी होगी।

5- मोबाइल में आरोग्य सेतू ऐप अनिवार्य होगा।

Violet Line JLN Metro

गृह मंत्रालय की नई गाइडलाइन के हिसाब से अनलॉक चार में मेट्रो का परिचालन 7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से होगा। अभी यह कैसे किया जाएगा, इसकी कोई दिशा निर्देश नहीं है। केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की ओर से विस्तार में एसओपी जारी होने के बाद यात्रियों को इस बारे में बताया जाएगा।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.