Chhattisgarh, Assembly, To reduce the acreage of farmers, Will be the case, High level check,

विधानसभा में बोले मंत्री, किसानों का रकबा कम करने के मामले में होगी उच्चस्तरीय जाँच

रायपुर. विधानसभा में बजट सत्र के छठवें दिन राजस्व मंत्री जय सिंह अग्रवाल हजारों किसानों के धान रकबे के कटौती मुद्दे पर घिर गए। बसपा विधायक केशव चंद्रा ने जांजगीर जिले में 20 हजार से अधिक किसानों के धान रकबे में कटौती का मुद्दा उठाया। इसके बाद जांजगीर जिले से भाजपा विधायक नारायण चंदेल और सौरभ सिंह ने इस विषय मंत्री की घेराबंदी कर दी। नेता-प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक ने भी राजस्व मंत्री से जवाब मांगा।

राजस्व मंत्री विपक्षी सदस्यों को जवाब देने की कोशिश करते, लेकिन विपक्ष के विधायक मंत्री के जवाब से असंतुष्ट होकर सदन में हल्ला करने लगे। केशव चंद्रा ने कहा कि 20 हजार के करीब जिन किसानों का रकबा काटा गया उन्हें इसकी जानकारी ही नहीं दी गई। वे जब धान खरीदी केंद्र पहुँचे तो इसका पता चला।

उन्होंने यह भी कहा कि कई किसान तो ऐसे जिनके पास अगर 10 एकड़ जमीन तो उनका 9 एकड़ रकबा में कटौती कर दिया गया है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि अधिकारियों की मनमानी से किसान पंजीयन कराने परेशान होते रहे। उन्हें खुद दो बार किसानों को लेकर मंत्रालय आना पड़ा है।

विपक्षी सदस्यों की शिकायत और मांग के बाद स्पीकर ने मंत्री को इस मामले में फिर परीक्षण कराने के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *