Chhattisgarh, Came from abroad after March 1, All people will, Corona test,

छत्तीसगढ़ : 1 मार्च के बाद विदेश से आए सभी लोगों का होगा कोरोना टेस्ट

रायपुर. छत्तीसगढ़ राज्य के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह ने कोविड-19 के संक्रमण पर प्रभावी ढंग से रोक लगाने के उद्देश्य से उन लोगांे से जो एक मार्च के बाद विदेश से छत्तीसगढ़ राज्य में आए है, उनसे संबंधित जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को संपर्क कर अनिवार्य रूप से अपनी विदेश यात्रा की जानकारी देने की अपील की है।

सचिव निहारिका सिंह ने कहा है कि कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए यह जरूरी है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में कोरोना से पीड़ित मिले अब तक 9 मरीजों में से 8 मरीज ऐसे है, जो विदेश यात्रा से लौटे है। इसको देखते हुए यह जरूरी हो गया है कि बीते एक माह के दौरान जितने लोगों ने विदेश यात्रा की है, उन्हें कोरोना से ग्रसित होने की संभावना को देखते हुए उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए।

सचिव निहारिका सिंह ने इस संक्रामक बीमारी की रोकथाम जानकारी देकर ही की जा सकती है। जानकारी छुपाने से संक्रमण बढ़ने और अपने परिजनों एवं पड़ोसियों की जान को खतरे में डालना है। उन्होंने कहा है कि बीते एक माह के दौरान विदेश से छत्तीसगढ़ राज्य में आने वाले लोगों की पहचान लगातार की जा रही है। विदेश यात्रा करने वालों की लिस्ट भी विभाग ने तैयार कर संबंधित जिलों के कलेक्टर, एसपी एवं सीएमएचओ को भेजकर कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग करायी जा रही है।

इसके बावजूद भी कई ऐसे लोग है, जो इस सूची से छूट गए है। उन्होंने ऐसे छूटे लोगों से तत्काल अपने जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को जानकारी देकर अपने साथ-साथ अपने परिजनों एवं आसपड़ोस के लोगों को इस महामारी से ग्रसित होने से बचा सकते है। निहारिका सिंह ने कहा है कि एक मार्च के बाद विदेशों से छत्तीसगढ़ राज्य में आने वालों की संख्या 2085 है। जिसकी जिलेवार सूची तैयार कर कलेक्टर, एसपी एवं सीएमएचओ को भेज दी गई है।

दरअसल स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ शासन ने एक मार्च के बाद विदेशों से छत्तीसगढ़ आए सभी लोगों को अनिवार्य रूप से कोरोना टेस्ट कराए जाने का निर्णय लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *