Lockdown, Millions stranded in Maharashtra, migrant workers,

मुंबई में फंसे मजदूरों के लिए स्‍पेशल ट्रेनें चलाई जाएं – CM उद्धव

मुंबई. लॉकडाउन  के चलते महाराष्‍ट्र  में फंसे लाखों प्रवासी मजदूरों को उनके गृहराज्‍य पहुंचाने के लिए  उद्धव ठाकरे कोशिशों में लग गए हैं. जिसको लेकर मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे केंद्र सरकार से मांग की है, कि  मुंबई में फंसे इन मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए स्‍पेशल ट्रेनें चलाई जाएं । उद्धव ने कहा कि अगर केंद्र सरकार को लगता है कि 30 अप्रैल के बाद 15 मई तक कोरोना वायरस का प्रभाव बढ़ने वाला है तो महाराष्‍ट्र में फंसे दूसरे प्रदेशों के मजदूरों को उनके घर भेजने की व्‍यवस्‍था की जानी चाहिए.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से यह कहा गया कि करीब 6 लाख प्रवासी मजदूरों को राज्य सरकार की तरफ से बनाए गए राहत शिविरों में खाना, दवाई रहने की सुविधाएं दी जा रही हैं। हालांकि, ऐसे वक्त में उनका अपने घरों और परिवारों से दूर रहना उनके लिए काफी मुश्किल हो रहा है।

बांद्र स्टेशन पर पुलिस ने किया था लाठी चार्ज

गौरतलब है कि 14 अप्रैल को मुंबई के बांद्रा में हजारों की तादाद में प्रवासी मजदूर स्टेशन के बाहर खड़े हो गए थे। इन्हें काफी समझाया गया लेकिन जब ये नहीं माने तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर स्थिति को नियंत्रण में लिया था। इसके बाद खुद गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को फोन कर कहा था कि ऐसा घटनाओं से कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई कमजोर पड़ेगी। उन्होंने उन्हें पूरी मदद का भरोसा दिया था।

उधर, महाराष्ट्र सरकार की तरफ से यह कहा गया कि चूंकि अफवाह फैली थी कि ट्रेन चलने वाली है इसलिए इतनी बड़ी तादाद में लोग एकजुट हुए थे। इसके बाद महाराष्ट्र सरकार ने उन प्रवासी मजदूरों को यह भरोसा दिलाया था कि लॉकडाउन तक उन्हें राज्य में रहने और खाने की कोई दिक्कत नहीं होगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *