छत्तीसगढ़ के कोरिया में पहुंचा टिड्डियों का दल, प्रशासन जुटा भगाने में…

टिडि्डयों को आवाज करके भगाने की कोशिश में जुटे ग्रामीण

कोरिया. राजस्थान, मध्यप्रदेश में किसानों की फसल का नुकसान पहुंचाने वाले टिडि्डयों का दल छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में प्रवेश कर गया है। कोरिया पहुंचे टिड्‌डी दल (Locusts arrived in Korea) को भगाने के लिए प्रशासन ने कमर कस ली है।

कोरिया जिले में पहली बार टिड्डियों का दल कल शाम को ही देखा गया। सुबह ये दल जवारीटोला और ग्राम पूंजी के बीच के जंगल में बड़ी मात्रा में  दिखा, तो ग्रामीणों ने प्रशासनिक अधिकारियों को सूचना दी। टिडि्डयों के दल को शोर करके अपने गांव से भगाने की कोशिश ग्रामीण कर रहे है।

कलेक्टर के निर्देश पर पहुंचे कृषि और उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों ने फायर ब्रिगेड के माध्यम से दवा का छिड़काव करना शुरू कर दिया है। दवा के छिड़काव से टिडि्डयों का नाश हो रहा है। लगातार कोरिया जिले के गांव में टिडि्डयों (Locusts arrived in Korea) का दल बढ़ता जा रहा है।  

सब्जी चट कर गए टिड्‌डी दल

कोरिया में शनिवार को पहुंचे टिड्‌डी दल (Locusts arrived in Korea) ने ग्रामीणों द्वारा लगाई गई सब्जियों को पूरी तरह से चट कर दिया। सब्जियों का बर्बाद होता देखकर, किसानों ने टिडि्डयों के दल को घेरा बनाकर हांकने की रणनीति अपनाई है। इस रणनीति का कुछ फीसदी फायदा, किसानों को मिल रहा है। 

कलेक्टर ने बढ़ाया ग्रामीणों का हौसला 

नवपदस्थ कलेक्टर सत्य नारायण राठौर अलसुबह बैकुंठपुर से 160 किमी दूर जनकपुर पहुंचे। वहां से काफी दूर स्थित सीधी बॉर्डर होते हुए जवारीटोला पहुंच कर टिड्डियों के नियंत्रण का जायजा लेने के लिए वहीं ठहरे थे। उनके साथ पूरा राजस्व अमला और मनेन्द्रगढ़ डीएफओउनका पूरा अमला के साथ कृषि, उद्यान विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। बीते कई घंटे से कलेक्टर सत्य नारायण राठौर वहीं डटे हुए है और ग्रामीणों का हौसला बढ़ा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *