Madhya Pradesh, Kamal Nath, Government,

MP: सरकार बचाने की जुगत में लगे कमलनाथ

भोपाल: हाल ही में घटे घटनाक्रम के बाद मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार पर गहरा संकट मंडरा रहा है. जिसे बचाने के लिए सीएम कमलनाथ हर तरह की कोशिशों में जुटे हैं, इसी को लेकर बुधवार देर रात कांग्रेस के 8 और विधायक चार्टर्ड विमान से जयपुर पहुंच गए. जिसके बाद रिजॉर्ट में कांग्रेस विधायकों की संख्या 86 हो गई है,  जिनमें तीन विधायक निर्दलीय हैं.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा में कुल 230 सीटें हैं. फिलहाल 2 विधायकों के निधन की वजह से विधानसभा में 228 विधायक हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने के बाद से विधायकों का सियासी समीकरण पूरी तरह से बदल गया है. कांग्रेस के 114 विधायकों में से 22 विधायकों के इस्तीफे की खबरें सामने आ रही है. इन विधायकों में 4 विधायक अभी लापता हैं.

कांग्रेस के पास कुल 88 विधायक बचे हैं. वहीं बीजेपी के कुल 107 विधायक हैं. 2 विधायक पार्टी से बगावत कर चुके हैं. कुल 105 विधायक बीजेपी के साथ हैं. वहीं बहुमत साबित करने के लिए कुल 116 विधायकों का समर्थन जरूरी है.

वहीं बसपा के 2 विधायकों में से एक पार्टी से निलंबित किया जा चुका है. समाजवादी पार्टी का भी एक विधायक है. मध्य प्रदेश में कुल 4 निर्दलीय विधायक हैं. मध्य प्रदेश कांग्रेस 22 विधायकों के इस्तीफे अगर स्वीकार कर लिए जाते हैं तो बीजेपी सरकार बना सकती है. हालांकि सरकार बनाने के लिए पहले बीजेपी को सदन में अविश्वास प्रस्ताव लाना होगा. अभी तक सामने आ रहे आंकड़ों के मुताबिक कमलनाथ सरकार अल्पमत में नजर आ रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *