Noble initiative: Ashok Gehlot government going to give relief to prisoners on Rajasthan foundation day on March 30, 1200 prisoners will be released | national News in Hindi

जयपुर। 30 मार्च को राजस्थान राज्य का स्थापना दिवस है। इस विशेष मौके से पूर्व राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। राज्य सरकार राजस्थान की जेलों में लंबे समय से सजा भुगत रहे कैदियों को राहत देने जा रही है। राजस्थान दिवस यानी 30 मार्च के दिन राज्य सरकार करीब 1200 कैदियों को समय से पहले रिहा करेगी।

 

राजस्थान दिवस के अवसर पर प्रदेश की जेलों में लम्बे समय से सजा भुगत रहे करीब 1200 बंदियों को समय से पहले रिहा किया जाएगा। इनमें सदाचार पूर्वक अपनी अधिकांश सजा भुगत चुके अथवा गंभीर बीमारियों से ग्रसित एवं वृद्ध बंदी शामिल हैं।
— Ashok Gehlot (@ashokgehlot51) March 27, 2021

मुख्यमंत्री निवास पर शनिवार रात हुई जेल विभाग की बैठक में यह महत्वपूर्ण और संवेदनशील निर्णय लिया गया है। सदाचार पूर्वक अधिकांश सजा भुगत चुके या गंभीर बीमारियों से ग्रसित और वृद्ध बंदियों को रिहा करने का फैसला किया गया है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि वृद्ध और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त कैदियों को इसलिए रिहा किया जा रहा है ताकि वे कोविड-19 संक्रमण के खतरे से बचे रहें। वृद्ध पुरुष जिनकी आयु 70 वर्ष और महिलाएं जिनकी आयु 65 वर्ष या इससे ज्यादा हो चुकी है, और जो सजा का एक तिहाई भाग भुगत चुके हैं उन्हें समय पूर्व रिहाई मिलेगी।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *