Parliament Canteen: Subsidy from Parliament canteen was completely abolished, now Rs. 50 I will not get chicken curry| national News in Hindi

इंटरनेट डेस्क। संसद सत्र के पहले संसद में चलने वाली कैंटीन को लेकर कुछ बदलाव हुए हैं। लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने मंगलवार को कहा है कि संसद संत्र के पहले चरण के अंदर 12 बैठक होंगी। दूसरा चरण 8 मार्च से 8 अप्रैल तक होगा जिसमें 21 बैठक होंगी। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि सदन सबके सहयोग से चले। लोकसभा स्पीकर ने कहा है कि संसद की कैंटीन में खाने पर मिलने वाली सब्सिडी को पूरी तरह से खत्म कर दिया गया है। संसद का बजट सत्र 29 जनवरी से 15 फरवरी तक चलेगा।

 

Amid COVID19 pandemic, Budget Session will commence from Jan 29. Rajya Sabha will sit from 9am to 2pm and Lok Sabha will sit be from 4 pm to 9 pm. Zero Hour and Question Hour will be held. MPs have been requested to undergo RT-PCR test: Lok Sabha Speaker Om Birla pic.twitter.com/Den2RfSX8a
— ANI (@ANI) January 19, 2021

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कैंटीन इससे जुड़े वित्तीय पहलुओं के बारे में कोई जानकारी नहीं दी। उन्होंने बताया कि सांसदों और अन्य लोगों को मिलने वाली सब्सिडी पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। आपको बता दें कि लोकसभा की बिजनेस एडवाइजरी कमेटी में सभी दलों के सदस्यों ने एक राय बनाते हुए इसे खत्म करने पर सहमति जताई थी। अब कैंटीन में मिलने वाला खाना तय दाम पर ही मिलेगा।

 

हर साल संसद की कैंटीन को सालाना करीब 17 करोड़ रुपये की सब्सिडी दी जा रही थी। 2017-18 में एक आरटीआई में संसद की रेट लिस्ट सामने आई थी जिसके मुताबिक, संसद की कैंटीन में चिकन करी 50 रुपए में और वेज थाली 35 रुपए में परोसी जाती है। वहीं थ्री कोर्स लंच की कीमत करीब 106 रुपए है। इतना ही नहीं साउथ इंडियन फूड में प्लेन डोसा सांसदों को मात्र 12 रुपए में मिलता है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *