People suffering from various other diseases due to corona infection, people struggling with deafness in new research, such symptoms are coming up?| national News in Hindi

लाइफस्टाइल डेस्क। कोविड-19 महामारी को एक वर्ष से ज्यादा समय बीत चुका है। ये वायरस एक बार फिर से हमारे जीवन में प्रवेश कर रहा है। देश और दुनिया में फिर से लगातार मामले सामने आ रहे हैं। देश के कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया है। वहीं मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। साथ ही कोरोना संक्रमण के बाद लगातार लोग नई-नई बीमारियों व अन्य रोगों की समस्याओं से घिरते नजर आ रहे हैं।

नए अध्ययन में कहा गया है कि वायरस के रूप में बदलाव जारी है और फैल रहा है। लेकिन लगातार सामने आ रहे लक्षणों में कोविड-19 से बहरेपन की समस्या भी देखी जा रही है। वेल्स में 56 मामलों के सामूहिक अध्ययन का मूल्यांकन कर रिसर्च को इंटरनेशनल जर्नल ऑफ ऑडियोलॉजी में प्रकाशित किया गया है।

कोरोना के बाद हो रही ये समस्याएं

1. टिनिटस (कान बजना)- एक या दोनों कानों के भीतर बिना किसी बाहरी आवाज के शोर, सीटी या घंटी बजने जैसी आवाज का सुनाई देना टिनिटस कहलाता है। इस अप्रिय सनसनी के साथ सबसे ज्यादा परेशान करने वाली बात ये है कि शोर वास्तव में अंदरुनी तौर पर पैदा नहीं होता।

2. बहरापन

दुनिया भर में सामने आ रहे एक या दोनों कान में बहरापन कोविड-19 का संभावित संकेत हो सकता है। रिसर्च के मुताबिक, बहरेपन की समस्या 7.6 फीसद से ज्यादा मामलों में देखी गई है। कोविड-19 से लड़ने के बाद लंबे समय तक गिरावट का संकेत हो सकता है।

3. वर्टिगो

वर्टिगो एक ऐसी बीमारी है जिसमें लोगों को चक्कर आते हैं और शरीर शिथिल पड़ जाता है। हालांकि, न तो विश्व स्वास्थ्य संगठन और न ही स्वास्थ्य प्राधिकारण ने चक्कर या वर्टिगो को विशिष्ट कोविड-19 के लक्षण से जोड़ा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *