Rahul और Priyanka की सक्रियता से बन रहा है विपक्षी एकता का माहौल: Rajiv Shukla

नयी दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला ने बुधवार को कहा कि हाथरस मामले और कृषि कानूनों को लेकर राहुल गांधी एवं प्रियंका गांधी के जमीन पर उतरने से देश में विपक्षी एकता का माहौल बन रहा है और आगे भी पार्टी के दोनों शीर्ष नेता इसी तरह से सक्रिय बने रहेंगे। हाल में हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस प्रभारी नियुक्त हुए शुक्ला ने यह भी कहा कि उन्हें आनंद शर्मा समेत प्रदेश के सभी वरिष्ठ पार्टी नेताओं का सहयोग मिल रहा है और वह अब सभी नेताओं को एक मंच पर एकजुट करेंगे तथा संतुलन बनाएंगे ताकि दो साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव में क ांग्रेस की जीत सुनिश्चित हो सके।

उन्होंने 'पीटीआई-भाषा के साथ बातचीत में कहा, ''उत्तर प्रदेश में विपक्ष की जो भूमिका है वो क ांग्रेस निभा रही है। प्रियंका जी लगातार सक्रिय हैं। प्रदेश में अगर कोई सक्रिय है तो वो क ांग्रेस है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ''उत्तर प्रदेश की तरह राष्ट्रीय स्तर पर भी क ांग्रेस लड़ रही है। पंजाब, हरियाणा और दूसरे राज्यों में पार्टी किसानों के मुद्दे पर लड़ाई लड़ रही है। यही कारण है कि दूसरे दल भी क ांग्रेस को समर्थन दे रहे हैं। विपक्षी एकता के लिए भी माहौल बन रहा है।

उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के हाथरस और पंजाब-हरियाणा दौरे का उल्लेख करते हुए कहा, ''राहुल जी पूरी लड़ाई लड़ रहे हैं। विपक्ष की तरफ से उनका ही स्वर सुनाई दे रहा है। उनके अलावा विपक्ष में कोई दूसरा स्वर नहीं है। यह पूछे जाने पर क्या कांग्रेस के ये दोनों नेता जमीन पर ऐसी सक्रियता आगे भी बरकार रखेंगे तो पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी के करीबियों में शुमार शुक्ला ने कहा, ''यह सक्रियता आगे भी बरकरार रहेगी।

उल्लेखनीय है कि राहुल और प्रियंका हाल ही में हाथरस में दलित लड़की के कथित सामूहिक बलात्कार और हत्या की घटना के बाद पीड़िता के परिवार से मिले थे। वहां जाने के पहले प्रयास के दौरान पुलिस ने दोनों को हिरासत में लिया था। हाथरस से आने के बाद राहुल गांधी ने कृषि कानूनों के मुद्दे पर पंजाब और हरियाणा में 'खेती बचाओ यात्रा निकाली। राहुल और प्रियंका के हाथरस दौरे को भाजपा के कुछ नेताओं की ओर से 'राजनीतिक पर्यटन बताने को लेकर शुक्ला ने पलटवार करते हुए सवाल किया कि क्या अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी के आंदोलनों को भी ये लोग 'राजनीतिक पर्यटन कहेंगे?

उन्होंने कहा, ''भाजपा नेताओं की प्रतिक्रिया से साफ है कि सत्तारूढ़ पार्टी परेशान है। इस सवाल पर कि क्या प्रियंका उप्र विधानसभा चुनाव में पार्टी का चेहरा होंगी तो उन्होंने कहा, ''अभी चेहरे वाली कोई बात नहीं है। अभी वह लड़ रही हैं। वह संघर्ष कर रही हैं। हिमाचल प्रदेश में वरिष्ठ नेताओं के बीच कथित मनमुटाव पर कांग्रेस के राज्य प्रभारी ने कहा, ''हिमाचल प्रदेश में संगठन को सक्रिय किया जा रहा है। पूरी तैयारी की गई है। सबको एकजुट करके एक मंच पर उतारना है। वहां सरकार बनने की बहुत अच्छी संभावना है। हमें अपनी बात जनता के बीच ले जानी है।

यह पूछे जाने पर क्या वह प्रदेश में वरिष्ठ नेताओं के बीच संतुलन बना पाएंगे तो उन्होंन कहा, ''संतुलन बन जाएगा। सब मिलजुलकर चुनाव लड़ेंगे। सभी नेताओं का पूरा सहयोग है। अब सुखराम जी भी साथ हैं। सब बड़े नेता साथ आ रहे हैं।
हाल ही में सोनिया गांधी को पत्र लिखने वाले 23 नेताओं में शामिल आनंद शर्मा से जुड़े सवाल पर शुक्ला ने कहा, ''आंनद शर्मा जी पार्टी से पूरा सहयोग कर रहे हैं और करेंगे। (एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *