Rajasthan: Awe of Corona in capital Jaipur, silence in the weekend lockdown, World Trade Park (WTP) and Asia’s biggest circle Jawahar Circle will be surprised to see this view? See these pictures of awe | national News in Hindi

इंटरनेट डेस्क। देशभर में कोरोना वायरस से हाल-बेहाल है। लोग डरे सहमे हुए हैं। बाहर निकलने से भी कतरा रहे हैं। वहीं कुछ लोग इस महामारी में भी जमकर लुत्फ उठा रहे हैं। राजस्थान में कोरोना से दिन प्रतिदिन मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। पिछले 24 घंटों में सात हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। वहीं 31 लोगों की इस वायरस से मौत हो गई है। राजस्थान में वीकेंड कर्फ्यू लगा हुआ है। लॉकडाउन जैसे हालात हैं। वीकेंड लॉकडाउन सोमवार सुबह 6 बजे तक रहेगा।

आज शनिवार को राजस्थान की राजधानी जयपुर में चारों तरफ सुनसान जैसा माहौल नजर आ रहा है। जयपुर के मुख्य लैंडमार्क और आवाजाही वाले स्थानों पर कोई दिखाई नहीं दिया। शहर के मुख्य शॉपिंग मॉल और टूरिस्ट के आकर्षण का केंद्र वर्ल्ड ट्रेड पार्क (WTP) और मॉर्निंग वॉक व रनिंग करने वालों से सराबोर रहने वाली एशिया की सबसे बड़ी सर्कल जवाहर सर्कल पार्क में मानो सन्नाटा सा छा गया है।

कोरोना के कारण जयपुर के वर्ल्ड ट्रेड पार्क का नजारा आम दिनों से अलग दिखाई दिया। सामान्य दिनों में जहां यहां लोग हजारों की संख्या में दिखाई देते थे वहीं आज शनिवार को वीकेंड लॉकडाउन के कारण यहां गार्ड के अलावा कोई नजर नहीं आया। इक्का दुक्का लोग इधर-उधर चहल-कदमी करते दिखे। वर्ल्ड ट्रेड पार्क में शॉपिंग से ज्यादा लोग इसकी खूबसूरती और बनावट देखने पहुंचते हैं लेकिन कोरोना का खौफ इतना है कि आज यहां कोई नजर नहीं आ रहा है।

वहीं दूसरी ओर एशिया की सबसे बड़ी सर्कल कही जाने वाली जवाहर सर्कल पर बने पार्क में भी आमदिनों में देखने लायक नजारा होता है। सेहत के प्रति सतर्क लोग यहां हजारों की संख्या में अल सुबह ही पहुंच जाते थे।

मॉर्निंग वॉक, रनिंग, साइकिलिंग सहित अन्य कई गतिविधियां यहां देखने को मिलती हैं लेकिन कोरोना से बिगड़ते हालातों के बीच यहां परिंदों के सिवा कोई नजर नहीं आ रहा है। इन नजारों को और बढ़ते हुए मामलों को देखकर लग रहा है कि राज्य में कोरोना से हालात अभी और बिगड़ेंगे। राज्य सरकार की लोगों से यही अपील है कि घरों में रहें। बहुत ही जरूरी हो तभी घर से बाहर निकले। कोरोना प्रोटोकॉल और गाइडलाइन का पूरी तरह पालन कर सरकार को सहयोग दें।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *