Trump ने कोविड-19 पर अमेरिकी लोगों को नहीं किया गुमराह : व्हाइट हाउस

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड द्वारा कोरोना वायरस (कोविड-19) के खतरों को लेकर अमेरिकी लोगों को गुमराह करने के आरोपों का व्हाइट हाउस ने खंडन करते हुए कहा है कि ऐसा उन्होंने जानबूझकर नहीं किया है।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव केलीग मैकनैनी ने बुधवार को एक वक्तव्य जारी कर यह जानकारी दी। इससे पहले सीएनएन ने श्री ट्रम्प के वरिष्ठ पत्रकार बॉब वुडवर्ड के साथ हुए साक्षात्कार के ऑडियो का हवाला देते हुए अपनी रिपोर्ट में कहा था कि राष्ट्रपति ने फरवरी में यह स्वीकार किया था कि वह कोरोना वायरस (कोविड-19) के खतरों से परिचित थे, लेकिन उन्होंने जानबूझकर अमेरिकी लोगों को इस महामारी के खतरों को कम करके बताया और उन्हें गुमराह किया।

सुश्री मैकनैनी ने इन आरोपों का खंडन करते हुए कहा, ;; कोविड-19 को लेकर राष्ट्रपति ने अमेरिकी लोगों से कभी झूठ नहीं बोला है। यह आरोप बिलकुल निराधार हैं।

दरअसल, अमेरिका में 1970 के दशक में चर्चित वाटरगेट कांड का खुलासा करने वाले वरिष्ठ पत्रकार बॉब वुडवर्ड ने ;रेजनामक एक किताब लिखी है जिसमें श्री ट्रम्प के हवाले से यह दावा किया गया है कि अमेरिका में कोविड-19 से पहली मौत होने से पहले ही राष्ट्रपति ट्रम्प ने उन्हें बताया था कि कोरोना एक ;जानलेवा बीमारी है।(एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *